Breaking News
Home / Slider News / Weather Update: गर्मी के तेवर… कई जिलों में पारा 40 पार, अलर्ट जारी

Weather Update: गर्मी के तेवर… कई जिलों में पारा 40 पार, अलर्ट जारी

भोपाल (ईएमएस)। पूरा मध्यप्रदेश झुलस रहा है। लू के थपेड़ों ने जीना दुश्वार कर दिया है। मार्च के दूसरे सप्ताह में ही गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। लगभग एक दर्जन शहरों का तापमान 40 डिग्री को पार कर गया है, वहीं नर्मदापुरम् में पिछले दो दिनों से तापमान 43 डिग्री से ऊपर बना हुआ है। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में तापमान और बढऩे की संभावना व्यक्त की है। मध्यप्रदेश में जहां खरगोन में तापमान 42.2 डिग्री तक पहुंच गया, वहीं रतलाम, खंडवा में 41 डिग्री तक जा पहुंचा। नर्मदापुरम् में तापमान 43 डिग्री के ऊपर चल रहा है। यहां लू के थपेड़ों से जीना मुश्किल हो गया है। उधर शाजापुर, शिवपुरी, उज्जैन में भी तापमान 42 डिग्री तक पहुंच गया। मालवांचल और निमाड़ में तापमान 42 डिग्री तक बना हुआ है। इसके अलावा राजगढ़ में 40, शिवपुरी में 40, खंडवा में 41.1, रायसेन में 37 डिग्री तापमान है। ऐसा पहली बार है जब मार्च के दूसरे सप्ताह में तापमान इतना अधिक हो गया।

5 जिलों में मार्च में ही मई-जून जितना तापमान
मौसम विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को भी प्रदेश के पांच जिलों में लू का प्रकोप जारी रहने के आसार व्यक्त किए। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के अनुसार नर्मदापुरम, खरगौन, उज्जैन, रतलाम और धार जिले में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य में सबसे कम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस मंडला और छतरपुर जिले के खजुराहो में दर्ज किया गया। वहीं प्रदेश के चार बड़े जिलों भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर का अधिकतम तापमान क्रमश: 38.3, 38.7, 36.6, और 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार भोपाल, इंदौर, जबलपुर, और ग्वालियर का न्यूनतम तापमान (रात में) 18.4, 20.1,20.6 और 2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

कुछ स्थानों में तापमान में हो सकती है गिरावट
मौसम विभाग के मुताबिक राजस्थान से मध्य प्रदेश की ओर चलने वाली शुष्क पछुआ हवाओं का प्रकोप शनिवार को कुछ कम होने की संभावना है, जिसके चलते प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में तापमान में एक डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज हो सकती है। मौसम वैज्ञानिकों ने इस साल प्रदेश में तेज गर्मी पडऩे की चेतावनी दी है। उनका कहना है कि राजस्थान और गुजरात में तेज हवाएं चलनी शुरू हो गई हैं। प्रदेश के पड़ोसी जिलों में चलने वाली इन हवाओं का असर एमपी में भी दिखना शुरू हो गया है। लिहाजा मार्च माह के अंत तक गर्म पश्चिमी हवाओं के कारण मध्य प्रदेश में दिन-रात के तापमान में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। मध्य प्रदेश में इस साल सामान्य से अधिक तापमान रहने के आसार है।

Check Also

सांप के जहर को भी काट देता है ऊंट का आंसू, ‎क्यों माना जाता है करामाती

-दुबई की सीवीआरएल में हो रहा शोध, जल्दी ही प‎‎रिणाम आने की उम्मीद दुबई (ईएमएस)। ...