Weather Alert: सर्द हवाओं से कांपा राजस्‍थान का चुरू, दिल्‍ली में 4.6 डिग्री है पारा

0
11

-पूरा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में

नई दिल्ली (ईएमएस)। सर्द हवाओं से दिल्‍ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है। मैदानों में भी पारा माइनस तक लुढ़क चुका है। दिल्‍ली के सफदरजंग में रविवार सुबह न्‍यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों पर पड़ रहा है, जिससे तापमान गिर रहा है। कश्मीर में तो पाइपलाइन में ही पानी जम गया। राजस्थान के कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है। मौसम विभाग ने राज्य में अगले कुछ दिन तक कड़ाके की ठंड का अलर्ट जारी किया है। राजस्‍थान के ज्‍यादातर इलाके भयंकर शीतलहर की चपेट में है। 19 दिसंबर की सुबह चुरू का तापमान -2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो सामान्‍य से 8 डिग्री कम है। मौसम विभाग के अनुसार, यहां अगले दो दिन शीतलहर रहेगी।

पहाड़ों पर भी बर्फ की सफेद चादर बिछ चुकी है। श्रीनगर और कश्मीर के अन्य हिस्सों में इस मौसम की सबसे सर्द रात रही और घाटी में तापमान शून्य से कई डिग्री नीचे दर्ज किया गया। कई जगहों पर पानी पाइपलाइन में ही जम गया, जिससे सप्लाई बाधित हुई। श्रीनगर में शुक्रवार रात तापमान शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों ने आगामी कुछ दिन में रात में तापमान और गिरने की संभावना जताई है। घाटी में 23 दिसंबर से 25 दिसंबर तक हल्की से भारी बर्फबारी होने की संभावना है।

राजधानी में शीतलहर की शुरुआत हो चुकी है। शनिवार को इस सीजन की पहली शीतलहर चली। मौसम विभाग के अनुसार, रात और दिन दोनों ही आधार पर राजधानी ने शीतलहर के मापदंडों को पूरा किया है। शीत लहर का प्रकोप अगले दो दिनों तक बरकरार रहने की संभावना जताई गई है। पूर्वानुमान के अनुसार, रविवार को आसमान साफ रहेगा। हल्का कोहरा रह सकता है। दिन के समय कुछ जगहों पर शीतलहर का प्रकोप रहेगा। अधिकतम तापमान 18 और न्यूनतम तापमान महज 5 डिग्री पर रह सकता है। दिल्‍ली में शीतलहर शुरू हो चुकी है। बेघरों के लिए शेल्‍टर्स होम सहारा हैं मगर उनकी संख्‍या नाकाफी है। रात 8 बजते-बजते उनमें से ज्‍यादातर फुल हो जाते हैं, बाकियों को खुले में रात बितानी पड़ती है।

पहाड़ों से आ रही सर्द हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी है। शहर में शुक्रवार रात तेज सर्द हवाए चलनी शुरू हुईं। इससे न्यूनतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। इसके बाद शनिवार दिन में तेज धूप खिली, लेकिन सर्द हवाओं के आगे बेअसर रही। ऐसे में अधिकतम तापमान भी सामान्य से चार डिग्री लुढ़ककर 20.5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। अमौसी स्थित आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक, उत्तर पश्चिमी हवाओं के कारण मौसम में बदलाव हुआ है। यह हवाएं नमीयुक्त नहीं हैं। ऐसे में ठंड बढ़ गई है। फिलहाल सर्द हवाओं का प्रकोप दो से तीन दिन जारी रहेगा। इस कारण रात के पारे में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आ सकती है।