Breaking News
Home / Slider News / UP Elections : मोटरसाइकिल पर सवार हुईं प्रियंका, अजय लल्लू के लिए मांगे वोट

UP Elections : मोटरसाइकिल पर सवार हुईं प्रियंका, अजय लल्लू के लिए मांगे वोट

कुशीनगर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को कुशीनगर के तमकुहीराज विधानसभा क्षेत्र में जनसभा कर पार्टी के प्रत्याशी एवं प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को जिताने की अपील की। इससे पहले प्रियंका गांधी ने अजय कुमार लल्लू के साथ मोटरसाइकिल पर बैठकर नगर में प्रचार किया और कांग्रेस को जिताने की अपील की।

तमकुहीराज की जनसभा में प्रियंका ने कहा कि बीते तीन साल में पूरा प्रदेश घूमकर देखा है। अजय कुमार लल्लू ने गरीबों के लिए संघर्ष किया। हर बार उन्होंने यही कहा कि जो गरीब है, पीड़ित है, हमें सबसे पहले उसके पास चलना है। सरकार के दबाव के बावजूद भी यह गरीबों की लड़ाई लड़ने में कभी नहीं झिझके। अजय कुमार लल्लू अपनी महत्वाकांक्षा को परे रखकर, सिर्फ आपके ही संघर्षों के लिए समर्पित रहते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने पांच साल में बेरोजगार नौजवानों को रोजगार नहीं दिया। हमारे आपके पूर्वजों ने इस देश को आजादी दिलवाई। भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग परिवारवाद की बात करते हैं, कौन सा परिवारवाद? सारे नेता के पुत्र तो यह ले गए पार्टी में, तो कौन से परिवारवाद से परहेज था इनको? सिर्फ मेरे परिवार से, क्योंकि मेरा परिवार इनके सामने कभी नहीं झुकेगा और यह जानते हैं कि कुछ भी कर लें, हम भाजपा के साथ न समझौता करेंगे और न कभी झुकेंगे।

प्रियंका ने कहा कि लाखों नौजवान आज बेरोजगार हैं, किसान कमा नहीं पा रहा है, छोटे दुकानदार, व्यापारी नई नीतियों से परेशान हैं। महिलाओं की सुरक्षा और उनको सशक्त करने की बात नहीं हो रही है। कभी आपने सोचा है कि किसके लिए बन रही हैं यह नीतियां? इसलिए आंखें खोलिए। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि छुट्टे जानवरों की समस्या से पूरे प्रदेश में किसान परेशान हैं। लोगों को खेतों की चौकीदारी करनी पड़ रही है और प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि मेरे संज्ञान में ही नहीं था। इस देश का सबसे बड़ा प्रदेश है उत्तर प्रदेश और यहां के किसानों की समस्या आपको पता ही नहीं है?

Check Also

Report : 10 महीने से पृथ्वी के तापमान की रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज, सबसे गर्म महीना बना…

वाशिंगटन (ईएमएस)। ताजा आंकड़ों से पता चला है कि बीता मार्च महीना धरती के अब ...