Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / Up Election 2022 : शिवपाल ने अखिलेश को दिया एक हफ्ते का अल्टीमेटम, बताया क्या होगा अगला कदम

Up Election 2022 : शिवपाल ने अखिलेश को दिया एक हफ्ते का अल्टीमेटम, बताया क्या होगा अगला कदम

Up Election 2022 : सैफई में शिवपाल यादव ने अनबोधन के दौरान कहा कि ‘हमने अखिलेश से सिर्फ 100 सीटें मांगीं कि सर्वे करा लो और जो सीटें जीतने लायक लगें।

Up Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और समाजवादी परिवार में अब तक एकता पर फैसला नहीं हो सका है। सोमवार 22 नवंबर को भी समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर भी एकता नहीं हो सकी। काफी समय से मीडिया में यह चर्चा थी कि मुलायम सिंह के जन्मदिन पर शिवपाल और अखिलेश यादव एक साथ आएंगे और पार्टी और मुलायम सिंह को एकता का तोफा देंगे। सोमवार को मुलायम सिंह के जन्मदिन पर एक तरफ अखिलेश यादव ने लखनऊ के पार्टी मुख्यालय में मुलायम सिंह यादव से केक कटवाकर आशीर्वाद लिया तो वहीं शिवपाल यादव पैतृक गांव में सभा करते दखाई दिए। इस दौरान शिवपाल यादव ने एक बार फिर भतीजे अखिलेश यादव को गठबंधन के लिए एक सप्ताह का अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा कि यदि एक सप्ताह में ऐसा कोई फैसला नहीं हुआ तो फिर वह अगले कदम पर विचार करेंगे।

शिवपाल क अल्टीमेटम

शिवपाल यादव ने पैतृक गांव में मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर केक काटने के बाद लोगों को संबोधित किया। सैफई में शिवपाल यादव ने अनबोधन के दौरान कहा कि ‘हमने अखिलेश से सिर्फ 100 सीटें मांगीं कि सर्वे करा लो और जो सीटें जीतने लायक लगें। उन्हें हमें दे दो। हमारा कहना है कि यदि गठबंधन नहीं कर सकते हो तो फिर विलय ही कर लो। एकता में जो ताकत है, वह बिखराव में नहीं है। हमारी बलिया, गोरखपुर और देवरिया में कितनी बड़ी रैली हुई है। लेकिन लोग एकता के पक्ष में हैं। इसलिए इस पर जल्दी ही कोई फैसला हो जाना चाहिए। यदि इस पर कोई फैसला नहीं होता है तो फिर हम एक सप्ताह के बाद फैसला लेंगे।’

गठबंधन नहीं हुआ तो बुलाएंगे लखनऊ में सम्मेलन

चाचा शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि यदि एक सप्ताह के अंदर फैसला नहीं होता है तो फिर लखनऊ में सम्मेलन बुलाएंगे और हर जगह पर रैलियां करेंगे। अपने संबोधन में शिवपाल ने कहा कि ‘एक सप्ताह में गठबंधन नहीं हुआ तो फिर हम लखनऊ में सम्मेलन करेंगे। हम तो चाहते हैं कि एक हो जाए। हम अपने लोगों से राय लेंगे कि क्या करना है और फिर आप लोग जो फैसला देंगे। हम उस पर चलेंगे। हम चाहते हैं कि 2022 में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी सत्ता में जरूर आए।’ साथ ही शिवपाल यादव ने कहा कि फिलहाल देश में हालात ठीक नहीं हैं। भाजपा की वजह से देश में किसान, गरीब, नौजवान, मुसलमान और किसान परेशान हैं। महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार से लोग परेशान हैं।

Check Also

विधानसभा चुनाव : पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपने ही बुने जाल फंस रही सपा, जानें पूरा मामला

– सपा-रालोद की 29 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में 9 मुस्लिमों के नाम से जाटों ...