Ukraine Russia war : राष्ट्रपति जेलेंस्की ने किया हथियार डालने से इनकार, जानें अब तक क्या-क्या हुआ

यूक्रेन युद्ध: राष्ट्रपति जेलेंस्की ने किया हथियार डालने से इनकार

रूस के आक्रमण का सामना कर रहे यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि वो हथियार नहीं डालेंगे।राजधानी कीव स्थित अपने कार्यालय के बाहर से फेसबुक पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में जेलेंस्की ने कहा, “हम हथियार नहीं डालेंगे और अपने देश की रक्षा करेंगे।”शनिवार सुबह पोस्ट किए गए इस वीडियो में उन्होंने अपने नागरिकों से सेना के सरेंडर की अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।

अमेरिका को भी किया इनकार

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमेरिका ने जेलेंस्की को यूक्रेन से निकालने की पेशकश की थी, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। जेलेंस्की ने अमेरिका से कहा कि यहां युद्ध चल रहा है और उन्हें इस वक्त सफर की नहीं बल्कि हथियारों की जरूरत है।बता दें कि रूसी सेना राजधानी कीव के कई हिस्सों में प्रवेश कर चुकी है और उसे यहां यूक्रेन की तरफ से भारी प्रतिरोध का सामना करना पड़ रहा है।

जानकारी

पहले भी वीडियो संदेश जारी कर चुके हैं जेलेंस्की

इससे पहले शुक्रवार को भी जेलेंस्की ने एक वीडियो संदेश में कहा था कि वो यूक्रेन की रक्षा के लिए खड़े हैं।कीव की गलियों में प्रधानमंत्री, अपने सलाहकार और दूसरे नेताओं के साथ खड़े जेलेंस्की ने कहा, “राष्ट्रपति प्रशासन के प्रमुख, प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति यहां है। हम सब यहां है। हमारी सेना यहां है। लोग और समाज यहां है। हम सभी यहां अपनी आजादी और अपने देश की रक्षा कर रहे हैं।”

विदेशों से यूक्रेन को मिल रहे हथियार

जेलेंस्की ने कहा कि रूस के खिलाफ लड़ाई के लिए उन्हें दूसरे देशों से हथियारों की मदद मिल रही है। अमेरिका और इंग्लैंड समेत 28 देश यूक्रेन को हथियार और अन्य आपूर्ति देने पर सहमत हुए हैं।अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूक्रेन को ‘त्वरित सैन्य सहायता’ देने के लिए 600 मिलियन डॉलर के एक मेमोरेंडम पर हस्ताक्षर किए हैं। इनमें से 250 मिलियन डॉलर की सहायता तुरंत की जाएगी, जबकि बाकी रक्षा से जुड़े अन्य कामों पर खर्च होगा।

यूक्रेन का दावा- रूस के 3,500 सैनिक मार गिराए

यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि उसने रूस के 3,500 सैनिक मार गिराए हैं। इसके अलावा 14 लड़ाकू विमान, आठ हेलिकॉप्टर, 536 सैन्य वाहन, 15 आर्टिलरी सिस्टम और 102 टैंकों को नष्ट किया है।जेलेंस्की ने युद्ध में अपने सैनिकों को खोने की बात स्वीकारते हुए कहा कि यूक्रेन को भी नुकसान उठाना पड़ रहा है।उन्होंने रूस पर रिहायशी इमारतों पर मिसाइलों से हमले करने का भी आरोप लगाया है।

यूक्रेन के पास जापानी जहाज पर हमला

यूक्रेन के तट के पास जापान की एक कार्गो जहाज पर मिसाइल से हमला हुआ है। जानकारी के लिए बता दें कि जापान ने इस युद्ध में भूमिका के लिए बेलारूस पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

क्रूज मिसाइलों से सैन्य ठिकानों को निशाना बना रहा रूस

रूस की सेना ने कहा है कि वह यूक्रेन के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने के लिए क्रूज मिसाइलों का इस्तेमाल किया है।रूस ने यूक्रेन के आठ समुद्री जहाज नष्ट करने का दावा किया है। रूस के रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेन के मेल्तीपोल शहर पर नियंत्रण होने की जानकारी दी है।यूक्रेन की तरफ से बताया गया है कि रूस ने अपनी रिजर्व सेना को युद्ध के लिए बुला लिया है।

फ्रांस ने कहा- लंबा चलेगा युद्ध

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा है कि यह युद्ध लंबा चलेगा और इस युद्ध के साथ आने वाले संकटों के दीर्घकालिक परिणाम होंगे। बता दें कि फ्रांस ने रूस से यूक्रेन में चल रहे युद्ध को रोकने की अपील की थी।