Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / Twin Tower का काउंटडाउन शुरू. : 3700 किलो बारूद से 12 सेकेंड में गिरेगी पूरी बिल्डिंग

Twin Tower का काउंटडाउन शुरू. : 3700 किलो बारूद से 12 सेकेंड में गिरेगी पूरी बिल्डिंग

आज दोपहर 2:30 बजे नोएडा में बने ट्विन टावर गिरा दिए जाएंगे। 100 मीटर से ज्यादा ऊंचाई वाले दोनों टावर गिरने में सिर्फ 12 सेकेंड का वक्त लगेगा। सुबह 7 बजे आसपास की सोसाइटी में रहने वाले करीब 7 हजार लोगों को एक्सप्लोजन जोन से हटा दिया गया। अब ट्विन टावर के पास किसी को जाने की इजाजत नहीं है।

अपडेट्स…

  • ट्विन टावर के पास की 2 सोसायटी में रसोई गैस और बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई है।
  • धूल हटाने के लिए 15 स्मॉग गन लगाई गई हैं। हवा में प्रदूषण मापने के लिए 6 एयर क्वालिटी इंडेक्स मशीनें लगाई गईं हैं। 6 हॉस्पिटल स्टैंड बाय पर हैं।
  • डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साहा के मुताबिक ग्रीन कॉरिडोर बनाए गए हैं। एम्बुलेंस भी मौके पर मौजूद हैं।
  • एक्सप्लोजन जोन में 560 पुलिस कर्मी, रिजर्व फोर्स के 100 लोग और 4 क्विक रिस्पांस टीम समेत एनडीआरएफ टीम तैनात हैं।
  • दोपहर 2.15 बजे एक्सप्रेस-वे को बंद किया जाएगा। आधे घंटे बीतने और धूल हटने के बाद इसे खोला जाएगा। इसके अलावा 5 और रूट बंद किए गए हैं।

आखिरी 60 सेकेंड में ब्लैक बॉक्स, लाल बल्ब और ग्रीन स्विच से होंगे सीरियल ब्लास्ट
दोपहर 2 बजकर 29 मिनट पर डिमोलिशन एक्सपर्ट चेतन दत्ता ब्लैक बॉक्स से जुड़े हैंडल को 10 बार रोल करेंगे। इसके बाद इसमें लगा लाल बल्ब ब्लिंक करना शुरू करेगा। इसका मतलब होगा कि चार्जर ब्लास्ट के लिए तैयार है। इसके बाद दत्ता हरा बटन दबाएंगे। इससे चार डेटोनेटर तक इलेक्ट्रिक वेव जाएगी। इसके बाद 9 से 12 सेकेंड में बिल्डिंग में एक के बाद एक धमाके होंगे।

ब्लास्ट होते ही 32 मंजिला इमारत मलबे में बदल जाएगी। कुतुब मीनार से ऊंचे ट्विन टावर से ठीक 9 मीटर दूर सुपरटेक एमरेल्ड सोसायटी है। यहां 650 फ्लैट्स में करीब 2500 लोग रहते हैं। सबसे ज्यादा परेशान इसी सोसाइटी के लोग हैं।

3700 किलो बारूद से 12 सेकेंड में गिरेगी पूरी बिल्डिंग
ट्विन टावर गिराने का जिम्मा एडिफाइस नाम की कंपनी को मिला है। ये काम प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता की निगरानी में हो रहा है। वे बताते हैं कि हमने बिल्डिंग में 3700 किलो बारूद भरा है। पिलर्स में लंबे-लंबे छेद करके बारूद भरना होता है। फ्लोर टु फ्लोर कनेक्शन भी किया जा चुका है।

काउंटडाउन शुरू हो चुका है। 28 अगस्त 2022 को घड़ी में दोपहर के 2.30 बजते ही एक बटन दबेगा। अगले 12 सेकेंड में कुछ धमाके होंगे और नोएडा में तनकर खड़े सुपरटेक ट्विन टावर्स जमींदोज हो जाएंगे। ये पढ़ने में भले रोमांचक लग रहा हो, लेकिन है बहुत मुश्किल, क्योंकि ट्विन टावर्स से महज 9 मीटर दूरी पर हाउसिंग सोसाइटी है, जिसमें 660 परिवार रहते हैं। 19 मीटर दूरी पर जमीन के नीचे गैस पाइपलाइन जाती है। भारत में इससे पहले इम्प्लोसिव टेक्नीक से इतना बड़ा डिमोलिशन कभी नहीं हुआ।

Check Also

Report : 10 महीने से पृथ्वी के तापमान की रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज, सबसे गर्म महीना बना…

वाशिंगटन (ईएमएस)। ताजा आंकड़ों से पता चला है कि बीता मार्च महीना धरती के अब ...