Cyber Crime : इनाम के लालच से रहें सावधान… क्योंकि खाली हो सकता है आपका अकाउंट

भोपाल. बदमाश साइबर क्राइम के नए-नए तरीके तलाश रहे हैं। तमाम हिदायतों, चेतावनियों के बावजूद पढ़े-लिखे भी ठगे जा रहे हैं। ऐसा ही केस हुआ आदर्श नगर में रहने वाले प्रदीप चौहान के साथ। उन्होंने साइबर पुलिस में अज्ञात मोबाइल नंबर धारकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। प्रदीप ने शिकायत में बताया कि उन्हें ऑनलाइन इनाम खुलने का झांसा दिया गया था। इनाम घर के पते पर भिजवाने के नाम पर कस्टम ड्यूटी की राशि अलग-अलग खातों में जमा करवाई गई। इस तरह आरोपियों ने 1.40 लाख रुपए अलग-अलग बैंक खातों में जमा करवा लिए। राशि प्राप्त होने के बाद आरोपियों ने अपने मोबाइल फोन बंद कर लिए हैं। पुलिस ने मामले की जांच के बाद एफआइआर दर्ज कर ली।

इन तरीकों से बच सकते हैं
1- अव्वल तो कोई भी बैंक केवायसी फोन पर अपडेट नहीं करता। इसके लिए कोई लिंक भी नहीं भेजी जाती। ऐसे में केवायसी अपडेट करने के नाम पर मांगी गई जानकारी फोन पर किसी को न दें। केवासी अपडेट करना ही है तो आपको बैंक जाकर संपर्क करना होगा।
2- इनाम खुलने, ऑफर में कोई सामान खरीदने, किसी स्कीम में निवेश करने के लिए अनजान शख्स द्वारा भेजी गई लिंक या क्यूआर कोड ओपन नहीं करें। ना ही उसके कहे पर पैसे दें। यदि कोई जानकार आपको गिफ्ट भेजेगा तो इसकी सूचना आपको देगा।
3- ऑनलाइन कॉमर्स वेबसाइट पर बिना बुकिंग के यदि कोई सामान आपको डिलीवर करने आता है, तो साफ है कि आपके साथ धोखा होने वाला है।
4- अपने डेबिट, क्रेडिट कार्ड, मोबाइल वॉलेट, ई-मेल आदि के पासवर्ड बदलते रहें। पासवर्ड याद रहे, इसलिए जरूरी है कि उन्हें डायरी में लिख लें और डायरी सुरक्षित रखें।
5- एटीएम बूथ या बैंक में सावधान रहें। किसी भी अनजान शख्स को अपना कार्ड न दें। ना ही कोई कोड बताएं। किसी अनजान से कोई भी आवेदन नहीं भरवाएं।
6- यदि आप अपना मोबाइल बच्चे को चलाने को देते हैं, तो ध्यान रखें कि उसमें वॉलेट ऐप न हो। यानी उस मोबाइल के जरिए पैसों का ट्रांजेक्शन न होता हो।
7- ऑनलाइन गेम से पैसे कमाने के चक्कर में न पड़ें। पैसे गंवाकर वापस पाने के चक्कर में हो सकता है कि आप और भी पैसे गंवा दें।
8- बिना कोई फॉर्म भरे यदि किसी सरकारी योजना में नाम खुलने, नाम आने के लिए फोन आता है और आपसे कोई जानकारी मांगी जाती है तो इससे बचें। यह धोखाधड़ी का ही एक तरीका है।