सीतापुर : 15 दिन में रिकार्ड एक लाख किशोर-किशोरियों ने लगवाया टीका

कुल 48,72,149 लोगों को लगा कोरोनारोधी टीका

सीतापुर। जिले के किशोर-किशोरियों को बधाई… उनके हौसले और हिम्मत के बूते महज एक पखवारे में कोविड टीकाकरण के एक तिहाई लक्ष्य को पूरा कर लिया गया है। सनद रहे कि 15-18 आयु वर्ग के किशोर-किशोरियों को कोरोना से बचाव का टीका लगाने का काम बीती तीन जनवरी से शुरू किया गया। महज 15 दिनों में जिले के एक लाख से अधिक किशोर-किशोरियों को कोरोनारोधी टीका लगाया जा चुका है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी और कोविड टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ. पीके सिंह ने बताया कि जिले में 15-18 आयु वर्ग के किशोर-किशोरियों की अनुमानित जन संख्या 3,14,488 है। इसमें से अब तक 1,04,211 किशोर-किशोरियों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है। उन्होंने किशोर-किशोरियों से अपील करते हुए कहा है कि युवा कोविड टीके की दूसरी डोज की नियत तारीख पर लगवा लें तभी पूरी सुरक्षा मिल पाएगी। सीएचसी अधीक्षकों और कोविड टीकाकरण में लगे सभी स्वास्थ्य कर्मियों से उन्होंने कहा कि ब्लॉकों में कोविड टीकाकरण की संख्या अच्छी है वहां यही तेजी बनाए रखना होगा। जहां कम है वहां और काम करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान व अन्य विभागों की मदद और सत्र विभाजन जैसे फार्मूले भी इस टीकाकरण को बढ़ाने में सार्थक भूमिका निभा रहे हैं। सभी के प्रयास से जागरूकता की लहर पैदा की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक कुल 48,72,149 लोगों को कोरोनारोधी टीका लगाया जा चुका है। इनमें से 30,29,874 लोगों को पहली, 18,34,537 लोगों को दूसरी और 7,738 को प्रीकॉशन डोज लगाई जा चुकी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मधु गैरोला का कहना है कि जिले में कोविड टीकाकरण का ग्राफ बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास जारी हैं। इसी क्रम में स्कूलों में शिविर लगाएं जा रहे हैं वहीं किशोर-किशोरियों के बीच कोविड टीके के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए एनसीसी, नेहरू युवा केंद्र, युवक मंगल, बाल सुधार गृह और चाइल्ड लाइन जैसे संस्थानों से मदद ली जा रही हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने किशोर-किशोरियों से अपील करते हुए कहा कि वह लोग निःसंकोच टीकाकरण के लिए आगे आएं। साथ ही अपने आसपास के लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें।

किस आयु वर्ग का कितना टीकाकरण —
15-18 साल — 1,04,211 टीका
18-44 साल — 31,54,317 टीका
45-60 साल — 10,39,068 टीका
60 से अधिक — 5,74,553 टीका