Home / उत्तर प्रदेश / सीतापुर : शिक्षा विभाग पर जुर्माना, चार वर्ष बाद मिला न्याय

सीतापुर : शिक्षा विभाग पर जुर्माना, चार वर्ष बाद मिला न्याय

सीतापुर। न्याय मिलने में चार वर्ष जरूर लगे लेकिन अंततः आज न्याय हुआ। शिक्षा विभाग पर 25 हजार रूप्या का जुर्माना लगाया गया। दरअसल शुक्रवार को तीन दिनों के लिए जन सूचना अधिकार के तहत धूल खा रहीं 265 फाइलों की सुनवाई करने के लिए राज्य सूचना आयुक्त श्रीमती रचना पाल आई है।
उनके आगमन पर विकास भवन के सामने उन्हें पहले गार्ड आफ आनर दिया गया।

 

इसके बाद वह सीधे सभागार गई। जहां पर प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बुंके देकर उनका सम्मान किया गया। इसके बाद सुनवाई शुरू हुई। सुनवाई का पहला प्रकरण शहर के गुरूद्वारा निवासी आनंद दीक्षित से हुआ। यहां से शुरू हुआ सुनवाई का सिलसिला फिर देर शाम तक चलता रहा। इसी बीच तहसील सिधौली के विकासखंड कसमंडा के ग्राम जगदीशपुर निवासी ब्रजेश मिश्र का नंबर आया। जिन्होंने वर्ष 2017 में शिक्षा विभाग द्वारा सूचना मांगी थी। जिसमें अवैध अतिक्रमण तथा गंदगी फैलाने का विषय शामिल था। वर्ष 2017 से आज तक शिक्षा विभाग उक्त जानकारी की सूचना ही नहीं दे पाया। जिस पर राज्य सूचना आयुक्त ने 25 हजार रूप्या का जुर्माना ठोंका है। पहले दिन करीब 86 प्रकरणों पर सुनवाई हुई। अभी सुनवाई दो दिन 25 और 27 को भी चलेगी। इस मौके पर एडीएम हरिशंकर शुक्ल, डीडीओ राकेश पांडे आदि मौजूद रहे।

Check Also

खुशखबरी: गोरखपुर शहर को मिलेगा मल्टीलेवल पार्किंग का तोहफा, जानिए कैसे उठा सकते हैं इसका लाभ

गोरखपुर। महानगर में बहुप्रतीक्षित मल्टीलेवल पार्किंग अब जल्द ही लोगों के लिए खोल दी जाएगी। ...