Breaking News
Home / अपराध / शाहजहांपुर : प्रेम प्रसंग के चलते पति और देवर ने मिलकर की प्रेमी की हत्या

शाहजहांपुर : प्रेम प्रसंग के चलते पति और देवर ने मिलकर की प्रेमी की हत्या

चार जुलाई की रात हुई थी अजय पाल की गोली मारकर हत्या

मदनापुर/शाहजहांपुर

प्रेम प्रसंग के चलते पति ने अपने छोटे भाई के साथ मिलकर प्रेमी की हत्या कर दी l गोली मारकर की गई हत्या के बाद से क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी l पुलिस ने महज 24 घंटे में हत्या का खुलासा करते हुए युवक के हत्यारे दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है l
मदनापुर में ग्राम बिरिया कलां का रहने वाला अजयपाल पुत्र सुरेन्द्र अपने ट्रैक्टर मे आटा चक्की लगाकर गांव गांव जाकर आटा पीसता था l हत्यारोपी ने बताया कि मेरी पत्नी ने भी अजयपाल से कई बार आटा पिसवाया था। अजयपाल से मेरी पत्नी रेनू के अवैैध सम्बन्ध हो गये और उसकी पत्नी उससे फोन पर बात करती थी । करीब एक महीने पहले उसने अपनी पत्नी को किसी से फोन पर बात करते देखा था । जब उसने पत्नी से पूछा तो पत्नी ने बताया कि गलती से नम्बर डायल हो गया था। उसने इस बात को नजर अंदाज कर दिया । हत्यारोपी ने कहा कि हत्या से करीब 6-7 दिन पहले उसने पत्नी को फिर फोन से बात करते देखा तो चुपके से अपनी पत्नी के मोबाइल को चैक किया । जिसमें एक नम्बर से उसकी पत्नी के मोबाइल पर कई बार काल आयी थी ।

पत्नी द्वारा भी उस नम्बर पर काल की गई थी। उस नम्बर का पता लगाया तो वह नम्बर अजय पाल का था । 4 जुलाई की रात्रि मे मैने अपने छोटे भाई सतेन्द्र को बताया तो सतेन्द्र ने कहा कि फोन करके चुपके से उसे बुला लो, और हम दोनो भाईयो ने उसे मारने का प्लान बनाया तो करीब रात्रि डेढ -दो बजे के आस पास मैने उसको फोन किया तो उधर से अजयपाल की आवाज आयी कि आ जाऊ क्या तो मैने धीमी आवाज मे अपनी आवाज बदलकर कहा कि आ जाओं और हम दोनो भाई घर के पास मे खडे लिप्टिस के पेड की आड मे छिप गये । अजयपाल ने अपनी पेन्ट कंधे पर डाल रखी थी जैसे ही वो पास आया तो हमको देखकर उसने भागने की कोशिश की तो मैने फायर कर दिया जो उसकी जांघ मे लगा लेकिन वो रुका नही तो मेरे भाई सतेन्द्र ने उसे भाग कर पकड लिया और हम उसे पकडकर करीब आधा -एक किमी दूर गाव के रतिराम के खेत मे खडे बबूल के पेड के पास ले गये और मेरे भाई सतेन्द्र ने उसके दोनो हाथ पकडकर कहा कि मार इसे जिन्दा ना छोड तब मैने उसके सीने पर गोली मार दी और वह वही गिर गया ।

फिर वहां से हम दोनो भाई चले आये । रास्ते मे जो अजयपाल की पेन्ट पड़ी थी उसको झाडियों मे छिपा दिया था । उसका मोबाइल मेरे भाई सतेन्द्र ने छीन लिया था तथा तमंचे को मैने अपने घर के सामने बनी भूसा वाली झोपडी मे छिपाकर रख दिया था । पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हथियारों को भी बरामद कर लिया है और अभियुक्तों को जेल भेज दिया है l

Check Also

हर भारतीय के किचन में पहुंची मैगी…..सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक !

नई दिल्ली (ईएमएस)। नेस्ले इंडिया ने हाल ही में खुलासा किया है कि भारत में ...