Breaking News
Home / अपराध / वेल्डिंग मिस्त्री की हत्या में पत्नी व प्रेमी सहित तीन गिरफ्तार, इस तरह रची थी हत्या की साजिश

वेल्डिंग मिस्त्री की हत्या में पत्नी व प्रेमी सहित तीन गिरफ्तार, इस तरह रची थी हत्या की साजिश

– प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने रची थी हत्या की साजिश

मीरजापुर (हि.स.)। वेल्डिंग मिस्त्री हरिश्चंद्र विश्वकर्मा हत्याकांड में शामिल उसकी पत्नी सहित तीन आरोपितों को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से 32 बोर पिस्टल, खोखा, कारतूस व बाइक बरामद की गई। तीनों के विरुद्ध हत्या, साजिश रचने सहित अन्य आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया।

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने बताया कि अदलहाट के डेहरी गांव निवासी हरिश्चंद्र विश्वकर्मा (35) वेल्डिंग मिस्त्री था। उसकी पत्नी रीता देवी का चुनार के गांगपुर निवासी आटो चालक सतीश सिंह से पिछले छह महीने से अवैध संबंध चल रहा था। दोनों अक्सर एक-दूसरे से मिला करते थे। घर में भी जाना-जाना शुरू हो गया। इसकी जानकारी हरिश्चंद्र को हुई तो उसने इसका विरोध किया। नहीं मानने पर रीता का घर से बाहर निकलना बंद कर दिया। पति को प्रेम में बाधक देख पत्नी रीता ने प्रेमी सतीश के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रच डाली। वारदात को अंजाम देने के लिए सतीश अपने गांव निवासी परदेशी साहनी को भी शामिल कर लिया। 13 जुलाई को हरिश्चंद्र कटका गांव निवासी शिक्षक अशोक सिंह के यहां काम करने गया था।

उसी रात लगभग 12 बजे रीता ने पति हरिश्चंद्र से बात की और उसका लोकेशन लिया। पति ने बताया कि वह दो घंटे बाद यहां से निकलेगा। इसकी जानकारी रीता ने अपने प्रेमी सतीश को दी। लोकेशन मिलते ही सतीश अपने साथी परदेशी के साथ बाइक से अदलहाट के डेहरी परशुरामपुर नहर पर पहुंच गया और हरिश्चंद्र के आने का इंतजार करने लगा। रात करीब ढाई बजे जैसे ही हरिश्चंद्र बाइक से आतख दिखा, सतीश उसे रोकने का प्रयास किया। जब हरिश्चंद्र नहीं रुका तो सतीश व परदेशी ने उसका पीछा कर चलती गाड़ी से उनके गर्दन में गोली मार दी। एक गाेली लगने से ही हरिश्चंद्र नहर पर ही बाइक लेकर गिर गया और उनकी मौके पर मौत हो गई।

प्रेम में बाधक बने पति की हत्या की साजिश रचने वाली पत्नी रीता देवी ने 14 जुलाई को की भोर में पांच बजे प्रेमी सतीश को फोन किया। पूछा कि काम हो गया की नहीं….। इस पर सतीश ने बताया कि हो गया और वह मर भी गया। इसके बाद पत्नी ने कहा कि अब आगे का काम मेरा है। एसपी ने रीता का मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाने के लिए कहा और उसकी काल डिटेल खंगाली गई। इसमें पता चला कि रीता ने ही अपने पति को रात में फोन किया और उसके कुछ देर बाद प्रेमी सतीश को भी फोन किया था। वहीं सतीश के मोबाइल का लोकेशन भी घटनास्थल पर रात को मिला था। इसके बाद रीता को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ की गई तो हत्याकांड का खुलासा हो गया।

Check Also

आंखों में धुधला दिखाई दे तो तुरंत कराए जांच, इसे नजरअंदाज करने की ना करें भूल

नई दिल्ली (ईएमएस) । आंखों के एक्सपर्ट का कहना है कि अगर किसी को देखने ...