Breaking News
Home / Lok Sabha Election 2024 / विस चुनाव : गोंडा संसदीय सीट पर कमल व साइकिल का कड़ा मुकाबला, 2022 में पांच सीटों पर…

विस चुनाव : गोंडा संसदीय सीट पर कमल व साइकिल का कड़ा मुकाबला, 2022 में पांच सीटों पर…


– 2022 में पांच सीटों पर भाजपा व इंडिया में था 50 हजार का अंतर

गोंडा। गोंडा संसदीय सीट पर पांच विधान सभाएं हैं और यहां पर वर्ष 2022 में हुए विधान सभा चुनाव में भाजपा को मिले कुल मतों व गठबंधन को मिले मतों में सिर्फ पचास हजार का फासला रहा। उस चुनाव में गैर यादव पिछडी जातियां भाजपा के प्रति एकजुट रहीं, वहीं इस चुनाव पिछडी जातियों के मतों का बिखराव हुआ जिसका लाभ गठबंधन को मिलता दिख रहा है।

इससे भाजपा व सपा में कडा मुकाबला होता दिखा। विधान सभा चुनाव में भाजपा को सदर सीट गोंडा पर 96528,मनकापुर में 105677,गौरा में 73545, उतरौला में 87162, मेहनौन में 107327 मत मिले जबकि सपा को सदर गोंडा में 89829, मनकापुर में 63328, गौरा 50571, उतरौला में 65393, मेहनौन में 84109 मत मिले, इनके साथ कांग्रेस को गोंडा 2701, मनकापुर में 1201, गौरा में 31589, उतरौला में 12944, मेहनौन में 5499 मत मिले थे।इसके अलावा उतरौला में ओवैसी की पार्टी को 12303 मत मिले। इस तरह बीजेपी को कुल मत 470239, सपा गठबंधन व ओवेसी को मिलाकर 419467 मत मिले।दोनों में 50,772 का अंतर था।

गौरा में पूर्व विधायक राम प्रताप सिह ने सपा को हार दिलाया था लेकिन इस बार पूरे जोष के साथ सपा के साथ रहे। वहीं उतरौला में ओवेसी व अन्य विधान सभाओं में मुस्लिम प्रत्याषी न होने के कारण इस चुनाव में मुस्लिम मतों को विखराव नहीं दिखा। गोंडा संसदीय सीट कुर्मी बाहुल्य है और सपा ने जातिगत आंकडो देखते हुए श्रेया वर्मा को मैदान में उतारा , अगर सपा की गणित फिट बैठी तो भाजपा को सपा की कडी टक्कर मिलने जा रही है।वहीं इस चुनाव में छुट्टा जानवर, बेरोजगारी, पिछडा वर्ग का आरक्षण, पेपर आउट, महंगाई का असर भी दिखा है। भाजपा प्रत्याषी कीर्तिवर्धन सिंह तीसरी बार मैदान में हैं और हैटिृक लगाने की तैयारी है। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी वर्मा की पोती श्रेया वर्मा पहली बार सांसद बनना चाह रही है।

Check Also

मानसिक चिकित्सालय में महिला ने रेता अपना गला,मौत से मचा परिसर में हड़कम्प

वाराणसी। जनपद के पांडेयपुर स्थित मानसिक चिकित्सालय में भर्ती एक महिला ने चाकू से अपने ...