Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / वाराणसी में जी-20 के तहत वाई-20 शिखर सम्मेलन 17 अगस्त से, तैयारी पूरी

वाराणसी में जी-20 के तहत वाई-20 शिखर सम्मेलन 17 अगस्त से, तैयारी पूरी

– बैठक में 150 से अधिक प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद, केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर भी होंगे शामिल

वाराणसी, (हि.स.)। जी-20 के तहत वाई-20 शिखर सम्मेलन वाराणसी में 17 से 20 अगस्त के बीच आयोजित होगा। वाई-20 शिखर सम्मेलन युवा मामले विभाग, भारत सरकार की पहल पर हो रहा है। जिसमें केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर भी शामिल होंगे।

प्रशासिनक अफसरों के अनुसार इस बैठक में 150 से अधिक प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद है। ये प्रतिनिधि जी-20 देशों, अतिथि देशों और अंतर-राष्ट्रीय संगठनों से होंगे। शिखर सम्मेलन में कार्य का भविष्य: उद्योग 4.0, नवाचार और 21वीं सदी के कौशल, शांति निर्माण और सुलह: युद्ध रहित युग की शुरुआत, जलवायु परिवर्तन और आपदा जोखिम न्यूनीकरण: स्थिरता को जीवन का एक तरीका बनाना, साझा भविष्य: लोकतंत्र और शासन में युवा,स्वास्थ्य, भलाई और खेल: युवाओं के लिए एजेंडा पर विस्तार से चर्चा होगी।

गौरतलब हो कि यूथ- 20 शिखर सम्मेलन-2023 के पूर्व गुवाहाटी में ,यूथ 20 (वाई 20) इंसेप्शन मीटिंग 2023, लेह में,वाई 20 प्री समिट मीटिंग सहित देश के प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों में विचार-मंथन सत्र, वाई-20 चौपाल और विभिन्न जनभागीदारी कार्यक्रमों का आयोजन हो चुका है।

गौरतलब हो कि वाराणसी में आयोजित वाई-20 शिखर सम्मेलन पिछले कुछ महीनों के दौरान हुई चर्चाओं के निष्कर्षों से बनाई गई वाई-20 विज्ञप्ति पर बातचीत करने, अंतिम रूप देने और हस्ताक्षर करने के लिए जी-20 देशों के युवा विशेषज्ञों, निर्णय निर्माताओं और युवा प्रतिनिधियों को एक साथ लाएगा। यह वाई-20 विज्ञप्ति पांच पहचाने गए विषयों को कवर करते हुए भारत की आम दृष्टि के सार को प्रदर्शित करेगी और यह सुनिश्चित करेगी कि युवाओं की आवाज उन लोगों द्वारा सुनी जाए जो उच्चतम स्तर के नीतिगत निर्णय लेते हैं। यह शिखर सम्मेलन अन्य हितधारकों के साथ सहयोग और नेटवर्किंग के अवसर प्रदान करेगा और युवाओं के विकास में योगदान देगा और वैश्विक मंच पर युवा एजेंडे पर चर्चा करेगा।

यूथ-20 जी-20 के आधिकारिक सहभागिता समूहों में से एक है। यूथ 20 (वाई 20) एंगेजमेंट ग्रुप ने देश के युवाओं को बेहतर कल के लिए विचारों पर परामर्श देने और कार्रवाई के लिए एक एजेंडा तैयार करने के लिए पूरे भारत में चर्चा और परामर्श का आयोजन किया है। वाई-20 युवाओं के लिए जी-20 की प्राथमिकताओं पर अपने दृष्टिकोण और विचार व्यक्त करने का एक मंच साबित हुआ है।

Check Also

सांप के जहर को भी काट देता है ऊंट का आंसू, ‎क्यों माना जाता है करामाती

-दुबई की सीवीआरएल में हो रहा शोध, जल्दी ही प‎‎रिणाम आने की उम्मीद दुबई (ईएमएस)। ...