Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / वाराणसी जिले के आठों विधानसभा क्षेत्र में अलग-अलग दल भाजपा को दे रहे टक्कर, तीन विधानसभा क्षेत्र में सीधी लड़ाई

वाराणसी जिले के आठों विधानसभा क्षेत्र में अलग-अलग दल भाजपा को दे रहे टक्कर, तीन विधानसभा क्षेत्र में सीधी लड़ाई

फाइल 

वाराणसी । प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातवें और आखिरी चरण में सोमवार को मतदान होगा। जिले में कुल 30 लाख 80 हजार 840 मतदाता आठ विधानसभा क्षेत्र के 70 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। जनपद के मतदाता सूची में थर्ड जेंडर की संख्या 185 से बढ़कर 189 हो गई है। जिले में सबसे अधिक मतदाता कैंट विधानसभा 4 लाख 58 हजार 925 मतदाता और सबसे कम मतदाता शहर दक्षिणी 3 लाख 23 हजार 470 में हैं । पिंडरा विधानसभा में 3 लाख 72 हजार 639, अजगरा विधानसभा में 3 लाख 72 हजार 512, शिवपुर में 3 लाख 73 हजार 296, रोहनिया में 4 लाख 07 हजार 917, शहर उत्तरी में 4 लाख 26 हजार 787, सेवापुरी में 3 लाख 45 हजार 294 मतदाता हैं।

बताते चले सातवें और आखिरी चरण में वाराणसी सहित 09 जिलों के कुल 54 सीटों पर मतदान होगा। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में इन 54 सीटों में 29 सीटों पर भाजपा के प्रत्याशियों ने जीत हासिल की थी, जबकि सात सीटों पर भाजपा गठबंधन वाली सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और अपना दल (सोनेलाल) के प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की थी। 11 सीटों पर समाजवादी पार्टी, बसपा के छह और एक सीट पर निषाद पार्टी के प्रत्याशी ने कब्जा जमाया था।

वाराणसी में शहर दक्षिणी में भाजपा के डॉ नीलकंठ तिवारी से समाजवादी पार्टी के किशन दीक्षित, कैंट से भाजपा के सौरभ श्रीवास्तव से कांग्रेस के डॉ राजेश मिश्रा, सपा की पूजा यादव, पिंडरा में भाजपा के डॉ अवधेश सिंह से कांग्रेस के अजय राय, बसपा के बाबूलाल पटेल, शिवपुर में भाजपा के अनिल राजभर मैदान से सुभासपा सपा गठबंधन के अरविंद राजभर से टक्कर दिख रही है। रोहनिया और सेवापुरी के साथ अजगरा विधानसभा में भी भाजपा को सपा गठंबधन, कांग्रेस और बसपा टक्कर दे रही है। वर्ष 2017 के चुनाव में भाजपा गठबंधन ने आठों सीट पर जीत दर्ज की थी।

 

Check Also

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बादलों की आवाजाही के साथ धूल भरी आंधी की संभावना, पढ़ें मौसम का ताज़ा अपडेट

कानपुर (हि.स.)। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि मौसमी सिस्टम की वजह से पश्चिमी उत्तर ...