Breaking News
Home / अपराध / राह चलती महिलाओं से चेन लूट को अन्जाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश, सात लूट की घटनाओं का हुआ खुलासा

राह चलती महिलाओं से चेन लूट को अन्जाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश, सात लूट की घटनाओं का हुआ खुलासा

 

घटना के वक्त बिना नम्बर की मोटरसाइकिल करते थे इस्तेमाल

डीसीपी पूर्वी की क्राइम टीम गोमती नगर विस्तार व गोमतीनगर पुलिस को मिली सफलता

लखनऊ। राजधानी के पूर्वी जोन के कई थाना क्षेत्रों में राहगिरों से चेन लूट की घटना को अन्जाम देने वाले तीन लुटेरों को गोमती नगर व गोमतीनगर विस्तार की पुलिस व संयुक्त क्राइम टीम ने दबोचने में बड़ी सफलता हासिल की जिनके पास से लूट का सामान और मोटरसाइकिल बरामद कर ली।

लूटेरों के पास से बरामद सामान

लूटेरों के पास से पुलिस ने पांच चेन पीली धातु, मोबाइल फोन, घटना में इस्तेमाल मोटरसाइकिल यूपी 32 डीवाई 1522(पैशन प्रो) व यूपी 32 एम 8773(स्पलेंडर) बरामद कर ली ।

कैसे आए पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे

पूर्वी जोन की संयुक्त पुलिस टीम लगातार क्षेत्र में चेन लूट की घटनाओं को लेकर इलाके में सीसीटीवी फुटेज व सर्विलांस सेल की मदद से तलाश में जुटी थी। शनिवार को मुखबिर द्वारा खबर मिली कि इलाके में चेन लूट की वारदात को अन्जाम देने वाले शातिर मौजूद है। जिसके बाद मौके पर पहुंची टीम ने तीन लोंगो को चोरी के सामान के साथ दबोच लिया। पकड़े गए शातिरों की पहचान राहुल उर्फ टाइगर(29)निवासी बस्तौली आम्रपाली इंदिरानगर हाल पता शन्तिनगर थाना सरोजनीनगर, धुव्रा बैरागी उर्फ डॉक्टर(27) निवासी ग्राम छतिया जनपद मालदा पश्चिम बंगाल जो थाना सरोजनीनगर, अंश कश्यप(18)निवासी जनपद अम्बेडकर नगर हाल पता सेंट थॉमस स्कूल सरोजिनी नगर के रूप में हुई है।

लुटेरों में शातिरों ने पुलिस के सामने कबूला

पूछताछ में लुटेरों ने बताया कि वो गोमतीनगर, विस्तार, आशियाना, जैसें इलाको में मौजूद कॉलोनियों में रेकी कर सोना चांदी पहनकर बाहर निकलने वाली महिलाओं को देखते थे। जैसे ही वो सुनसान रास्तों की तरफ पहुंची तो उनके गले से चेन लूटकर कर फरार हो जाते थे। घटना के वक्त हम लोंग मोटरसाइकिल की नम्बर प्लेट निकाल देते थे। तकि कोई पहचान न सके जिसके लिए मास्क और हेलमेट का इस्तेमाल करते थे। हम लोगों ने मिलकर कुछ दिन पहले सुन्दर कांड पढ़ने गई महिला के साथ विराम खंड के पास चेन लूटी और ग्वारी पुल के पास एक व्यक्ति से पंद्रह हजार रुपए और मोबाइल लूट की थी। इसी तरह हम लोगों ने कई वारदातों को अन्जाम दिया।

डीसीपी पूर्वी ह्रदेश कुमार के अनुसार लगातार कई थानों में चेन लूट की घटनाएं सामने आ रही थी। जिसमें शातिर बिना नम्बर प्लेट की मोटरसाइकिल व फोन का इस्तेमाल न कर घटना को अन्जाम दे रहे थे। टीमों की कड़ी मेहनत के बाद शातिरों को दबोच लिया गया है। पकड़े गए शातिरों में राहुल रावत के ऊपर चार मामले दर्ज है। वहीं सात चेन लूट की घटनाओं का खुलासा कर तीनों आरोपियों को सलाखों के पीछे भेज दिया गया है।

 

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...