Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / योगी सरकार सोशल मीडिया कॉन्क्लेव से करेगी महाकुंभ की ब्रांडिंग, जानिए क्या है तैयारी

योगी सरकार सोशल मीडिया कॉन्क्लेव से करेगी महाकुंभ की ब्रांडिंग, जानिए क्या है तैयारी

प्रयागराज, 11 फरवरी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रयागराज में अगले साल होने वाले महाकुंभ की ग्लोबल ब्रांडिंग करने और उसे समावेशी रूप देने के लिए बड़े फैसले ले रही है। सरकार महाकुंभ से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के लिए सरकारी एजेंसियों के साथ गैर-सरकारी एजेंसियों का भी सहयोग लेगी। इसके लिए सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा।

महाकुंभ से पहले समावेशी महाकुंभ का आयोजन

महाकुंभ के आयोजन में अभी तक सरकारी एजेंसियों के विचार ही समाहित होते थे लेकिन अब योगी सरकार इससे एक कदम आगे जाकर गैर सरकारी एजेंसियों को भी इसमें शामिल करना चाहती है। प्रयागराज की क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह बताती हैं कि पर्यटन विभाग अधिक से अधिक लोगों को महाकुंभ से जोड़ना चाहता है। उनका यह भी कहना है कि हर किसी के पास एक बहुत बेहतर आइडिया होता है और हो सकता है कि वह अब तक सरकार तक न पहुंच पाया हो। ऐसे लोगों के महाकुंभ से जुड़े आइडिया को सरकार के साथ साझा करने के लिए पर्यटन विभाग एक प्रतियोगिता का आयोजन करेगा जिसमें लोगों के कुम्भ के आयोजन से जुड़े आईडिया मांगे जायेंगे। इस प्रतियोगिता में सबसे अलग आइडिया देने वाले लोगों को पर्यटन विभाग प्रोत्साहित करेगा। उनका यह आइडिया महाकुंभ के आयोजन का अंग भी बनेगा।

ग्लोबल रीच बढ़ाने के लिए सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का होगा आयोजन

क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी ने बताया कि महाकुंभ के आयोजन से पूर्व प्रयागराज में पर्यटन स्थलों की ब्रांडिंग और पब्लिसिटी के लिए पर्यटन विभाग कई तरह की तैयारियां कर रहा है । इसके लिए सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन किया जा रहा है। मार्च में दो दिवसीय कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा, जिसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। इसमें सबसे पहले स्थानीय सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के साथ कॉन्क्लेव किया जाएगा, जिसके बाद ग्लोबल रीच वाले इन्फ्लुएंसर के साथ कॉन्क्लेव होगा। साथ ही देश भर के पर्यटन केन्द्रों से टूर ऑपरेटरों को भी इसमें आमंत्रित किया जा रहा है। उनसे महाकुंभ में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उनके विचार मांगे जायेंगे। होटल उद्यमियों को भी इसमें आमंत्रित किया गया है। इन सभी आगंतुकों से एक तरफ जहां पर्यटकों के लिए आवश्यक सुविधाओं के प्रस्ताव मांगे जायेंगे, वहीं इसकी आपूर्ति में अभी तक की कमियों की समीक्षा भी की जायगी ।

महाकुंभ से पहले सोशल मीडिया के जरिये शहर को दिलाएंगे स्वच्छता की बेहतर रेटिंग

जन सरोकार से जुड़े अभियानों की पहुंच जन-जन तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया की उपयोगिता सर्व विदित है। स्वच्छ सर्वेक्षण में प्रयागराज की स्थिति में सुधार की बात हो या फिर अगले वर्ष महाकुंभ से पहले शहर की स्वच्छता को दुरुस्त करना, इसके लिए स्थानीय नागरिकों को भी जागरूक करना आवश्यक है। नगर निगम प्रयागराज के नगर आयुक्त चंद्र मोहन गर्ग बताते हैं कि इसी आवश्यकता को देखते हुए नगर निगम स्वच्छता अभियान के लिए सोशल मीडिया का सहयोग लिया जा रहा है। दो दर्जन से अधिक सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के साथ उनकी एक बैठक भी हो चुकी है, जिसके बाद शहरवासी जल्द ही सोशल साइट्स पर शहरी गतिविधियों के साथ शहर की सफाई व्यवस्था को देख सकेंगे । सोशल मीडिया साइट्स पर सक्रिय युवा शहरवासियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करेंगे। रील और सोशल साइट्स के अन्य माध्यमों से शहरवासियों को जागरूक किया जाएगा ताकि महाकुंभ के पहले शहर की स्वच्छता में रेटिंग बेहतर किया जा सके।

Check Also

इस बार वरुण गांधी की जगह पीलीभीत सीट से संजय सिंह गंगवार को मिल सकता टिकट !

लखनऊ (ईएमएस)। यूपी की पीलीभीत सीट से बीजेपी इस बार वरुण गांधी का पत्ता काट ...