Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / योगी सरकार का दावा : ओमीक्राॅन से निपटने के लिए मुकम्मल तैयारी

योगी सरकार का दावा : ओमीक्राॅन से निपटने के लिए मुकम्मल तैयारी

लखनऊ उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ‘ओमीक्राॅन’ के खतरे से निपटने के लिये पूरी तरह से तैयारी होने का दावा करते हुये कहा है कि सभी जिलों में सुरक्षा और सतर्कता के पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा रविवार को जारी बयान के अनुसार राज्यस्तरीय स्वास्थ्य विशेषज्ञ परामर्श समिति ने कोरोना के नये वैरिएंट ‘ओमीक्राॅन’ के खतरों से जुड़े विभिन्‍न पहलुओं को ध्यान में रखते हुए अपनी रिर्पोट तैयार कर ली है। साथ ही सरकार ने ‘ओमीक्राॅन’ के संक्रमण को रोकने के लिये एहतियाती तौर पर जिलास्तरीय सुरक्षा एवं सर्तकता के इंतजाम कर लिये हैं।

बयान के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इससे बचाव और इलाज के संबंध में समिति के बिन्‍दुओं पर गंभीरता से काम करने और प्रदेश में टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। कोरोना के नये वैरिएंट के अलावा अन्य संक्रामक रोगों पर नियंत्रण के लिए सभी जिलों में सक्रियता बरती जा रही है। प्रदेश सरकार ने स्वच्छता, कोविड प्रोटोकॉल, परीक्षण, टीकाकरण और निगरानी को ओमीक्राॅन के खिलाफ बनाये गये चक्रव्यूह का हिस्सा बनाया है।

इसके अलावा प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज में 100 बेड और प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में 50-50 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने आला अधिकारियों को नए वैरिएंट को लेकर सभी अस्‍पतालों में पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिये हैं। इसके साथ ही प्रदेश सरकार अस्पतालों में पर्याप्त ऑक्‍सीजन, बेड और लैब जैसे जरूरी इंतजामाें की उपलब्धता बनाये रखने की भी निरंतर निगरानी कर रही है।
अब तक किये गये इंतजामों के तहत प्रदेश की 3011 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) और 855 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों (सीएचसी) को ओमीक्राॅन के खतरों के मुताबिक सभी अत्याधुनिक संसाधनों से लैस किया जा रहा है। सरकार ने प्रदेश में 73000 निगरानी समितियों को भी सावधानी एवं सतर्कता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी सौंपी है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में प्रतिदिन 2.5 लाख से अधिक आरटीपीआर जांच करने में सक्षम है। ऐसे में नए वैरिएंट को ध्‍यान में रखते हुए भविष्‍य में जीनोम सीक्वेंसिंग की रफ्तार को बढ़ाने में भी उत्तर प्रदेश सक्षम है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने लखनऊ स्थित पीजीआई और केजीएमयू में जीनोम परीक्षण को तेज करने के आदेश दिए हैं।

Check Also

प्रतापगढ़ : 42 वर्षों से रामपुर खास में फहरा रहा है कांग्रेस का झण्डा

– पिता से विरासत में मिली विधायिकी को बचाना मोना के लिये चुनौती लालगंज, प्रतापगढ़। ...