यूपी विधानसभा चुनाव में इस बार होगी कुछ खास व्यवस्था, बुजुर्ग और दिव्यांग घर बैठे कर सकेंगे मतदान

0
14

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग ने कई फैसले लिए हैं। यूपी के 75 जिलों में 403 सीटों पर होने वाले विधानसभा चुनावों में इस बार दिव्यांगों और बुजुर्गों को घर बैठे मतदान करने की सुविधा दी जाएगी। महिलाओं के लिए विशेष बूथ रहेंगे। इन बूथों पर मतदान कर्मी से लेकर मतदाता केवल महिलाएं होंगी।

सोमवार देर शाम को मेरठ पहुंचे भारत निर्वाचन आयोग के उपनिर्वाचन आयुक्त डॉ. चंद्रभूषण कुमार ने यूपी चुनाव 2022 की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने यूपी चुनाव में होने वाले 4 बड़े बदलावों को बताया।

दिव्यांगों को मिलेगी पोस्टल बैलेट सुविधा
यूपी में 2022 के चुनाव में दिव्यांगों को पोस्टल बैलेट की सुविधा दी जाएगी। दिव्यांग मतदाताओं को पहली बार यह एक वैकल्पिक व्यवस्था मिलेगी। अगर मतदाता बूथ पर आकर मतदान करना चाहे तो बूथ पर आ सकता है। बूथ पर नहीं आ सकता तो घर से अपने वोटिंग राइट का प्रयोग कर पोस्टल बैलेट की सुविधा ले सकता है। दिव्यांगों के लिए हर बूथ पर रैंप बनाए जाएंगे, ताकि दिव्यांगों को मतदान के दौरान असुविधा न हो।

बुजुर्ग घर बैठे मतदान कर सकेंगे
80 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों को भी इस बार बूथ पर आकर मतदान करने की अनिवार्यता नहीं रहेगी। बुजुर्ग मतदाता पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकते हैं। 80 साल से अधिक उम्र के मतदाताओं को बूथ पर आकर मतदान करने में परेशानी होती है। ऐसे मतदाताओं को अब तक गोद में उठाकर या व्हीलचेयर पर लाकर मतदान करना पड़ता है। ऐसे मतदाता घर से मतदान कर सकेंगे।

वुमन मैनेज्ड पोलिंग स्टेशन
चुनाव में आधी आबादी को मतदान की विशेष सुविधा देते हुए महिलाओं के लिए विशेष बूथ बनाए जाएंगे। ऑल वुमन बूथ में कर्मचारी से लेकर मतदाता केवल महिलाएं होंगी। इन बूथों पर केवल महिला मतदाताओं को मतदान करने की सुविधा रहेगी। इन बूथों पर पीठासीन अधिकारी से लेकर पोलिंग अफसर, मतदान कार्मिक भी महिलाएं ही होंगी। महिलाओं का वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए यह प्रयोग किया जाएगा। इन बूथों को महिलाएं ही संचालित करेंगी।

50 प्रतिशत बूथों पर लाइव वेबकास्टिंग
यूपी में बने कुल मतदान केंद्रों में से 50 प्रतिशत बूथों से मतदान की लाइव वेबकास्टिंग की जाएगी। बूथों पर सीसीटीवी कैमरों के जरिए वेबकास्टिंग की जाएगी। सीधे निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर इन बूथों को जोड़कर मतदान की पल-पल की जानकारी का अपडेट चलेगा। हर जिले में 50 प्रतिशत बूथों को लाइव वेबकास्टिंग से जोड़ा जाएगा।