यूपी इलेक्शन : सातवें चरण में 11 बजे तक 21.55 प्रतिशत मतदान, योगी सरकार के 5 मंत्रियों समेत इन दिग्गजों की किस्मत का फैसला आज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सातवें और अंतिम चरण के लिये नौ जिलों की 54 सीटों पर सोमवार सुबह 11 बजे तक 21.55 प्रतिशत मतदान हुआ।  चुनाव आयोग के अनुसार सात बजे सुबह मतदान शुरू होने के पहले चार घंटो में मऊ जिले में सर्वाधिक 24.74 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि गाजीपुर में सबसे कम 19.35 फीसदी लोग वोट डालने के लिये मतदान केन्द्र पहुंचे। इसके अलावा जौनपुर जिले में 21.84 प्रतिशत, वाराणसी में 21.21 प्रतिशत, मिर्जापुर में 23.41 प्रतिशत, सोनभद्र में 19.68 प्रतिशत, आजमगढ़ में 20.12 प्रतिशत, चंदौली में 23.43 प्रतिशत और भदोही में 22.24 प्रतिशत मतदान हुआ।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी केशव कुमार के मुताबिक मतदान शांतिपूर्ण तरीके से कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुये जारी है और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। मतदान के शुरूआती दो घंटों में कुछ स्थानो पर ईवीएम मशीन में तकनीकी दिक्कत आयी थी जिसे तुरंत दुरूस्त करा लिया गया है। जौनपुर से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार मल्हनी विधानसभा क्षेत्र में जनता दल (यू) प्रत्याशी एवं पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने अपनी पत्नी एवं जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीकला धनंजय सिंह के साथ बूथ संख्या 102 पर मतदान किया वहीं मुंगरा बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र में राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी ने वोट डाला। सोनभद्र में राज्य मंत्री संजीव सिंह गोंड ने 402 ओबरा विधानसभा में मतदान किया।

वाराणसी में कबीना मंत्री रवीन्द्र जायसवाल ने मलदहिया स्थित बूथ में जाकर मतदान किया जबकि नीलकंठ तिवारी ने शंकुलधरा में प्राइमरी स्कूल स्थित बूथ पर जाकर मताधिकार का प्रयोग किया। जौनपुर सदर में मंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने वोट डाला। गौरतलब है कि इस चरण में आजमगढ़, मऊ, जौनपुर, गाजीपुर, चन्दौली, वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही तथा सोनभद्र जिलों की 51 विधानसभा सीटों पर सायं छह बजे तक मतदान होगा। इनके अलावा 03 सीटों, चंदौली जिले की चकिया (सु) तथा सोनभद्र जिले की राबर्टसगंज एवं दुद्धी (सु) सीट पर सायं चार बजे तक मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। सातवें चरण के मतदान में 2.06 करोड़ मतदाता 75 महिला प्रत्याशियों सहित 613 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद कर देंगे।

योगी सरकार के 5 मंत्रियों समेत इन दिग्गजों की किस्मत का आज फैसला

UP Assembly Polls: चुनाव के अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश के जिन मंत्रियों के चुनावी भाग्य का फैसला होगा. उनमें वाराणसी दक्षिण सीट से पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी, शिवपुर-वाराणसी सीट से अनिल राजभर, वाराणसी उत्तर सीट से रविंद्र जायसवाल, जौनपुर से गिरीश यादव और मड़िहान-मिर्जापुर से रमाशंकर सिंह पटेल शामिल हैं.

 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनावों (Uttar Pradesh Assembly Elections 2022) के सातवें और आखिरी चरण (7th and last Phase) में आज 9 जिलों की कुल 54 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. यह चरण खास है क्योंकि न केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बल्कि समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के भी संसदीय इलाकों में इसी चरण में चुनाव हो रहे हैं. इसके अलावा योगी सरकार के पांच मंत्री भी आज मैदान में हैं. योगी आदित्यनाथ की घोर आलोचना करने वाले उनकी ही सरकार के पूर्व मंत्री और सपा के साथ हाथ मिलाने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओमप्रकाश राजभर की किस्मत का भी फैसला आज ही होना है.

चुनाव के अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश के जिन मंत्रियों के चुनावी भाग्य का फैसला होगा. उनमें वाराणसी दक्षिण सीट से पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी, शिवपुर-वाराणसी सीट से अनिल राजभर, वाराणसी उत्तर सीट से रविंद्र जायसवाल, जौनपुर से गिरीश यादव और मड़िहान-मिर्जापुर से रमाशंकर सिंह पटेल शामिल हैं.

विधानसभा चुनाव से ऐन पहले बीजेपी छोड़कर सपा में आए पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान मऊ जिले की घोसी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनकी किस्मत का भी आज फैसला होना है. बीजेपी से गठबंधन तोड़कर सपा से गठबंधन करने वाले सुभासपा अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर गाजीपुर की जहूराबाद सीट से तो गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी मऊ सदर और बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह जौनपुर के मल्हनी से इसी चरण में चुनाव लड़ रहे हैं.

इनके अलावा दुर्गा प्रसाद यादव, आलमबदी आजमी, शैलेंद्र यादव ललई, विजय मिश्रा, तूफानी सरोज भी इसी चरण में चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं. सातवें चरण में वाराणसी, चंदौली, भदोही, मिर्जापुर, रॉबर्ट्सगंज, गाजीपुर, मऊ, आजमगढ़ और जौनपुर जिलों के 54 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगी.