यूपी : अग्निपथ की आंच वाराणसी पहुंची, उपद्रव, वाहनों के शीशे तोड़े-देखें तस्वीरें

0
381

वाराणसी। अग्निपथ योजना (सेना में भर्ती को लेकर बदले प्रारूप ) के बिहार से शुरू हिंसक विरोध की आंच शुक्रवार को वाराणसी भी पहुंच गई। पूर्वांचल के अलग-अलग जिलों से समूह में कैंट स्टेशन के बाहर जुटे युवकों ने जमकर हंगामा किया। युवकों ने रोडवेज,चौकाघाट और इंग्लिशिया लाइन में वाहनों पर पथराव किया। इसकी जानकारी पाते ही अफसर फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और युवकों को वहां से हटाया। बवाल की आशंका देख जगह-जगह भारी फोर्स तैनात है। जिले की सीमाओं पर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं।

बवाल की आशंका के मद्देनजर देररात वाराणसी परिक्षेत्र के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल की अध्यक्षता में प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों के बीच समन्वय बैठक में अवांछनीय तत्वों के साथ ही सोशल मीडिया पर निगरानी बढ़ाए जाने की रणनीति बनाई गई। बैठक के बाद प्रशासन और पुलिस की ओर से संयुक्त अपील जारी की गई। इसके बावजूद दूसरे जिलों से अलसुबह ही शहर में जुटे युवाओं ने कैंट स्टेशन और रोडवेज के पास हंगामा किया। युवकों ने रोडवेज बस स्टैंड,चौकाघाट और लहरतारा इलाके में वाहनों पर पथराव किया। कैंट रेलवे स्टेशन में रेल पटरियों में आग लगा दी। मौके पर पहुंचे सुरक्षा बलों ने उन्हें खदेड़ आग को बुझा दिया।

पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने बताया कि सभी थानेदारों को अलर्ट किया गया है। छावनी स्थित सेना भर्ती कार्यालय पर भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। सेना के आंतरिक सूचना तंत्र को बाहर की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए निर्देशित किया गया है। रेलवे स्टेशनों पर प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए आरपीएफ, जीआरपी को अलर्ट किया गया है।

फिरोजाबाद में अग्निपथ के विरोध में रोडवेज बसों मे तोड़फोड़

फिरोजाबाद। अग्निपथ के विरोध में शुक्रवार सुबह युवकों ने मटसेना थाना क्षेत्र के आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर रोडवेज बसों में तोड़फोड़ की। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पूर्व ही उपद्रवी भाग गए। पुलिस इनकी पहचान करने में जुटी है।

मटसेना थाना क्षेत्र के आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर माइल स्टोन-42 किलोमीटर के कट पर शुक्रवार सुबह अराजक तत्वों ने जमकर हंगामा किया। चार रोडवेज बसों में तोड़फोड़ कर दी। इससे इन बसों के शीशे चकनाचूर हो गये। करीब 20 मिनट तक एक्सप्रेस-वे पर अराजकता फैली रही । सूचना पर यूपीड़ा की टीम के साथ कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंची। जुमे की नमाज को लेकर पहले से ही शहर भर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। थानाध्यक्ष मटसेना संजुल पाण्डेय ने बताया कि बसों में तोडफोड़ करने वालों की पहचान की जा रही है।

अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे युवाओं को एडीजी ने समझाकर कराया घर वापसी

कानपुर देहात । जनपद में अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे युवाओं को एडीजी कानपुर जोन ने शांत कराकर घर वापसी कर दी। युवाओं ने अधिकारियों की बात मानकर प्रदर्शन बन्द कर दिया ।

देश में जगह-जगह अग्निपथ योजना का विरोध पुरजोर तरह से चल रहा है। कई जगह हिंसक प्रदर्शन भी हुए। वहीं कानपुर देहात जनपद में शुक्रवार सुबह शुरू हुए प्रदर्शन में सबसे पहले कानपुर झांसी हाइवे को कुछ युवाओं द्वारा जाम कर दिया गया। इसी के साथ सैकड़ों युवाओं ने लालपुर रेलवे स्टेशन पर भी प्रदर्शन शुरू किया जिससे कुछ ट्रेनों को आउटर पर रोक दिया गया। सूचना मिलते ही जनपद के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए और प्रदर्शन कर रहे युवाओं से प्रदर्शन खत्म करने का आग्रह करने लगे। जनपद के अधिकारियों की बातों को विरोध दर्ज करा रहे युवाओं ने अनसुना कर दिया। इसके बाद कानपुर जोन के एडीजी भानु भास्कर पहुंचे और उन्होंने विरोध कर रहे युवाओं से आत्मीयता के साथ वार्ता की। उन्होंने प्रदर्शन कर रहे युवाओं को समझा कर प्रदर्शन शांत कराया और सभी को घर वापस भेज दिया।

एडीजी ने बताया कि कुछ युवाओं द्वारा जनपद में दो जगह प्रदर्शन किया गया था जो कि अब पूरी तरीके से शांत है। सभी युवा अपने घर जा चुके हैं और जनपद का माहौल पूरी तरीके से सौहार्दपूर्ण है। उन्होंने लोगों से अपील भी की है कि किसी भी तरह की बहकावे में ना आए और अपने घरों में ही रहे।

जनपद में अलर्ट

जुमे की नमाज और अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन को देखते हुए जनपद में अलर्ट जारी है। पूरे जनपद के सभी थानाक्षेत्र में पुलिस बल गस्त कर रहा है। सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी पर भी पुलिस की कड़ी नजर है। एक जगह पर भीड़ को इकट्ठा नहीं होने दिया जा रहा है।