यूक्रेन में अभी भी फंसे हैं सीतापुर जिले के सात छात्र, सरकार से जल्द से जल्द घर वापसी की लगा रहे गुहार

यूक्रेन से लौटे सीतापुर के डेविड ने योगी-मोदी को दिया धन्यवाद
भारत सरकार ने और तेज किया आपरेशन गंगा

सीतापुर। जिले के महमूदाबाद क्षेत्र के रहने वाले डेविड ने यूक्रेन से सकुशल लौटकर वापस आने पर सबसे पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया है। मीडिया को शेयर किए गए वीडियो में डेविड ने वहां के हालातों का भी जिक्र किया है। वहीं यूक्रेन में फंसे सीतापुर के सात अन्य छात्रों ने भी जल्द से जल्द वापस लाने की मांग भारत सरकार से की है।

बताते चलें कि इस वक्त यूक्रेंन में युद्ध छिड़ चुका है। वहां की सरकार ने लोगों से अपने-अपने वतन लौट जाने की बात कही है। ऐसे में भारत ने सबसे पहले अपने देश के लोगों को आपरेशन गंगा अभियान चलाकर वापस लाने के लिए प्रयास शुरू कर दिए है। हजारों की संख्या में लोग लौट रहे है। जो वहां फंसे हुए हैं उन्हें जल्द ही वापस लाने की प्रक्रिया सरकार द्वारा की जा रही है। इसी क्रम में सीतापुर के आठ छात्र यूक्रेन में पढ़ाई कर रहे है। जिसमें से एक छात्र डेविड पुत्र रामलखन निवासी बांसुरा महमूदाबाद बीती रात को घर वापस लौटा। डेविड ने लौटते ही अपना एक वीडियो  शेयर किया। जिसमें उसने बताया कि वह वर्ष 2018 में वहां पढ़ने के लिए गया था। कुछ दिन पूर्व जब यूक्रेन में युद्ध छिड़ गया तो भारत सरकार उसे लेकर वापस लौटी। डेविड ने प्रधानमंत्री मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद दिया है।।

इसी क्रम में सीतापुर जिले के प्रेमनगर सिधौली निवासी मृत्युंजय चौरसिया, गडियाहसनपुर सिधौली निवासी मो. फैज पुत्र सफी अहमद खान, शहर सीतापुर के पूर्णागिरिनगर की गरिमा मिश्रा पुत्री कैलाशनाथ मिश्रा, ग्राम बहुती थाना मितश्रिख के सागर वर्मा पुत्र सुरेश वर्मा, विवेकनगर सिधौली के आदित्यप्रकाश सिंह पुत्र रामधवानी सिंह, रिहार लहरपुर के तान्या पांडेय पुत्री पंकज पांडेय तथा चंदनपुर बिसवां निवासी शादाब पुत्र दयात अख्तर अभी भी वहां फंसे हुए है। सभी अपने परिजनों से लगातार बात कर रहे है और खुद को जल्द से जल्द वापस लाने की गुहार सरकार से की है।