Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मेरठ : हेल्थ व फ्रंट लाइन वर्कर्स को दी गयी कोरोना से बचाव की प्रिकॉशन डोज

मेरठ : हेल्थ व फ्रंट लाइन वर्कर्स को दी गयी कोरोना से बचाव की प्रिकॉशन डोज

एडीएम सिटी ने मेडिकल कालेज में किया टीकाकरण अभियान का शुभारंभ

मेरठ। (आरएनएस ) हेल्थ वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स और बुजुर्गों को कोविड संक्रमण से बचाने के लिए कोविड रोधी टीके की बूस्टर डोजप्रिकॉशन डोज यानि प्रिकोशनप्रिकॉशन डोज लगाने को देने का अभियान जिले में सोमवार से को शुरू हुआ। मेडिकल कॉलेज में एडीएम सिटी ने इस अभियान का शुभारंभ किया। इस दौरान हेल्थ वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स व 60 साल से ऊपर के बुजुर्ग व्यक्तियों को टीका लगाया।
प्रिकॉशन डोज अभियान का शुभारंभ एडीएम सिटी दिवाकर सिंह, मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा. आर सी गुप्ता, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण गौतम ने किया। इस मौके पर एडीएम सिटी दिवाकर सिंह ने कहा कि कोरोना को मात देने के लिये बूस्टर डोजप्रिकॉशन डोज मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा के अभी यह हेल्थ वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर हेल्थ वर्कर ,फ्रंट लाइन वर्कर और, 60 साल से अधिक एक ऐसे व्यक्तियों को लगायी जा रही है, जो किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त हैं। उनका लगायी जा रही है। उन्होंने लोगों से अपील की जिले की जनता से अपील करते हुए कहा कहा कि कोरोना को मात देने के लिये पहली व दूसरी डोज जरूर लगवाएं । टीकाकरण से तभी इससे ही कोरोना से जीता जा सकता है। इसी में हम सबकी भलाई है। स्वास्थ्य विभाग को तो अपना काम कर ही रहा है। लेकिन जनता लोगों को भी टीकाकरण के लिये जागरूक होने की आवश्यकता है। इस दौरान मेडिकल कॉलेज स्टाफ, पुलिस विभाग के कर्मचारी व आगामी विधान सभा चुनाव में ड्यूटी पर में लगे कर्मचारियों ने कोविड- 19 की बूस्टर प्रिकॉशन डोज ली।

नगरीय स्वास्थ्य केंद्र पुलिस लाइन में बूस्टर डोजप्रिकॉशन डोज टीकाकरण का शुभारंभ नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डा अम्बीश पंवार व मंडलीय सर्विलांलांंस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने शुभारंभ किया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण गौतम ने बताया शासन की गाइडलाइन के अनुसार जिन्हें वैक्सीन की दूसरी डोज लगे नौ माह बीत चुके हैं। यानी पिछले साल जनवरी से मार्च के  बीच दूसरी डोज लगवाने वालों को कोरोना की तीसरी खुराक दी गयी। समय के साथ उनकी इम्यूनिटी कम हो गयी है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये इम्यूनिटी बूस्ट होना जरूरी है। बुजुर्गो में को भी ज्यादा खतरा है। ऐसे इसलिए बुजुर्गों केा को भी बूस्टर प्रिकॉशन डोज दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि बूस्टर डोजप्रिकॉशन डोज के लिये 253 सेंटर बनाए गये हैं, जिसमें शहर व देहात के स्वास्थ्य केन्द्र ,जिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज को शामिल किया गया है। उन्होंने बताया जिले में 24 हजार हेल्थ वर्कर्स व 24 हजार फ्रंटलाइन वर्कर्स व 65 हजार ऐसे लोग शामिल हैं जो 60 साल से ऊपर के हैं सया किसी बीमारी से ग्रस्त हैं। ऐसे लोगों को बूस्टर डोज लगायी जाएगी।

इनको दी गयी बूस्टर की प्रिकॉशन डोज

पुलिस बल के सदस्य निजी व सरकारी स्वास्थ्य कर्मी मेडिकल कॉलेज, सरकारी मेडिकल के हेल्थ वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर्स काविड वार्ड में जिनकी ड्यूटी लगी है। उन्हें भी बूस्टर डोज लगायी गयी आगामी विधानसभा चुनावों में ड्यूटी पर तैनात सभी कर्मचारी 3400 को कोविशील्ड व 4600 लोगों को को वैक्सीन की बूस्टर डोज प्रिकॉशन डोज दी गयी।

Check Also

प्रतापगढ़ : 42 वर्षों से रामपुर खास में फहरा रहा है कांग्रेस का झण्डा

– पिता से विरासत में मिली विधायिकी को बचाना मोना के लिये चुनौती लालगंज, प्रतापगढ़। ...