Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मदुरै ट्रेन हादसे के पीड़ित विमान से लाए गये, उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने परिवार को दी सांत्वना

मदुरै ट्रेन हादसे के पीड़ित विमान से लाए गये, उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने परिवार को दी सांत्वना

लखनऊ, (हि.स.)। तमिलनाडु के मदुरै रेलवे स्टेशन के यार्ड में खड़ी ट्रेन की बोगी में लगी आग हादसे के शिकार पीड़ितों को विमान से लखनऊ रविवार को लाया गया। इस हादसे में अपनों को खो चुके परिवार को ढांढस बांधने के लिए उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक पहुंचे।

मदुरै रेलवे स्टेशन के यार्ड पर खड़ी ट्रेन की बोगी में आग लगने से इस हादसे में सीतापुर के पांच, लखनऊ के दो सहित नौ यात्रियों की मौत हो चुकी है। कई लोग घायल हैं। रविवार को सभी घायलों और शवों को विमान से लखनऊ लाया गया है। मृतकों के शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। अपने आंखों के सामने परिवार को खोने वाले यात्री रिश्तेदारों और अन्य परिजन को देखकर भावुक होकर रोने लगे। इस बीच पहुंचे उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने पीड़ित परिवार को सांत्वना दी हैं।

उन्होंने परिजनों से मिलकर इस घटना पर अपनी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए यह भरोसा दिलाया है कि इस दुख की घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ खड़ी है। उन्होंने परिजनों को राज्य सरकार की ओर से दिए गए मुआवजे का लिफाफा सौंपा।

हादसे में जान गंवाने वालों में लखनऊ के चौक इलाके के मनोज अग्रवाल की मां मनोरमा अग्रवाल (81) व बेटी हिमानी बंसल (22) भी शामिल हैं। मां और बेटी की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। पिता ने बताया कि हिमानी बचपने से ही मेधावी थी। एमसीए करने के बाद वह नौकरी की तलाश में थी।

सीतापुर के आदर्शनगर निवासी स्वयंसेवक शिव प्रताप सिंह ने इस हादसे में चार लोगों की जान बचायी है। लेकिन अपनी पत्नी और बहनोई को नहीं बचा सके हैं। हादसे में ट्रैवल एजेंसी संचालक हरिशी कुमार भसीन की भी मौत हुई। इसके अलावा उनके दो कर्मचारी अंकुल कश्यप और दीपक कश्यप की भी जान गई है। सीतापुर के पांच लोगों की मौत हुई है।

इस घटना के संबंध में जीआरपी ने यूपी के सीतापुर की भसीन टूर एण्ड ट्रैवल एजेंसी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। जीआरपी के मुताबिक, इसी ट्रैवेल एजेंसी ने यात्रा के लिए एक कोच बुक किया था। 72 सीट वाले इस कोच में कुल 63 यात्री सवार थे। इनमें 38 से 60 उम्र के यात्री अधिक थे। सभी ने 17 अगस्त को यात्रा शुरू की थी।

उल्लेखनीय है कि मदुरै रेलवे स्टेशन के यार्ड में खड़ी ट्रेन की एक बोगी में शनिवार को आग लग गई थी। इस हादसे में उत्तर प्रदेश के नौ लोगों की मौत हुई है। जांच में पाया गया कि गैस सिलेंडर के चलते यह हादसा हुआ है। अब इसको लेकर जीआरपी ने जांच शुरू कर दी है।

Check Also

प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में फुलवरिया फ्लाईओवर का किया निरीक्षण, देखें तस्वीरें

वाराणसी  (हि.स.)। गुजरात में पूरे दिन व्यस्त और लम्बे कार्यक्रम, हवाई सफर के बाद गुरुवार ...