मंगल पर चट्टान के भीतर पहली बार दिखा रहस्यमय ‘धब्बा’

0
15

नासा के प्रेजरवरेंस रोवर ने की थी खुदाई
वॉशिंगटन (ईएमएस)। मंगल पर चट्टान के भीतर पहली बार रहस्यमय ‘धब्बा’ दिखा है। यह धब्बा नासा के प्रेजरवरेंस रोवर द्वारा की गई खुदाई के दौरान देखा गया। नासा के मार्स रोवर प्रेजरवरेंस ने अपनी हालिया सैंपलिंग एडवेंचर की तस्वीरें शेयर की हैं। रोवर ने मंगल ग्रह की चट्टान की सतह के ऊपर छेद किया। सतह के नीचे रोवर को कुछ ऐसा दिखा जो पहले ‘किसी ने कभी नहीं देखा था’।

अपनी हालिया खोज की तस्वीरें रोवर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर कीं। कैप्शन में लिखा, ‘मैंने सतह की परत को हटाने और नीचे देखने के लिए इस चट्टान के एक छोटे से हिस्से को काट दिया।’ट्वीट में शेयर की गई पहली तस्वीर में रोवर को अपने भारी-भरकम उपकरणों के साथ मंगल ग्रह की एक चट्टान की सतह को काटते हुए दिखाया गया है। दूसरी फोटो में चट्टान की सतह में बना हुआ एक गोलाकार निशान दिखाई देता है और उसके चारों और सफेद धूल बिखरी हुई है। इसके बाद रोवर निशान को करीब से देखता है जिसमें धूल रेत की तरह दिखाई देती है। चौथी फोटो में चट्टान के नीचे की सतह दिखाई देती है जिसकी बनावट चट्टान की बाहरी सतह से अलग दिखती है।नासा का प्रेजरवरेंस e रोवर चट्टानों के नीचे की सतह से सैंपल्स इकट्ठा करेगा, जिसका मिशन साइंटिस्ट विश्लेषण करेंगे।

कई यूजर्स ने बताया कि चौथी तस्वीर, जिसमें चट्टान की आंतरिक संरचना नजर आ रही है, के ऊपरी हिस्से में एक अजीब सफेद त्रिकोणीय धब्बा है। वैज्ञानिकों का मानना है कि कभी यह गड्ढा पानी से भरा हुआ था। रोवर की ओर से इकट्ठा किए जाने वाले नमूनों को 2030 की शुरुआत में एक अन्य मिशन से पृथ्वी पर वापस लाया जाएगा।सफेद धब्बा त्रिभुज के आकार है और बाकी सतह से बिल्कुल अलग दिखाई दे रहा है। यह तस्वीर रोवर के वाइड एंगल टोपोग्राफिक सेंसर फॉर ऑपरेशन एंड एनजीनियरिंग कैमरे से ली गई है, जो रोवर के साइंस कैमरों में से एक है। वर्तमान में रोवर मंगल ग्रह के जेजेरो क्रेटर में है।