भारत के इन 13 शहरों में सबसे पहले मिलेगी 5G connectivity, कहीं इसमें तो आपका शहर शामिल नहीं?

0
5668

दूरसंचार विभाग (DoT) ने भारत में 2022 में 5G इंटरनेट सर्विसेज शुरू की जाएंगी। कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जिन्हें पहले 5G सर्विस दी जाएगी। सरकार ने भारत में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी को मंजूरी दे दी है ।5G नीलामी 26 जुलाई, 2022 को आयोजित की जाएगी। 72 GHz से ज्यादा स्पेक्ट्रम की 20 साल की वैधता अवधि के साथ नीलामी की जाएगी।

नीलामी अलग-अलग low(600 मेगाहर्ट्ज, 700 मेगाहर्ट्ज, 800 मेगाहर्ट्ज, 900 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज, 2100 मेगाहर्ट्ज, 2300 मेगाहर्ट्ज), मिड (3300 मेगाहर्ट्ज) और हाई (26 गीगाहर्ट्ज़) फ्रीक्वेंसी बैंड में स्पेक्ट्रम के लिए आयोजित की जाएगी। भारत में 5जी 4जी से करीब 10 गुना तेज होगा। भारत में 2022 में 5G इंटरनेट सर्विसेज शुरू की जाएंगी। कुछ ऐसे शहर हैं जिन्हें पहले 5G सर्विस दी जाएगी। भारत में ऐसी जगहें हैं जहां पर 4जी कनेक्टिविटी भी नहीं है।

13 शहर जो भारत में 5जी कनेक्टिविटी पाने वाले पहले शहर बन सकते है : देश भर के 13 शहरों में शुरुआत में 5G मिलेगा। ये 13 शहर अहमदाबाद, बेंगलुरु, चंडीगढ़, चेन्नई, दिल्ली, गांधीनगर, गुरुग्राम, हैदराबाद, जामनगर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे हैं। भारत में सबसे पहले कौन-सा टेलीकॉम ऑपरेटर कमर्शियल तौर पर 5G सर्विसेज को शुरू करेगा। ये Jio, Airtel और Vi (Vodafone Idea) में से कोई भी हो सकता है।

DoT ने पहले ही 2018 में शुरू हुई स्वदेशी 5G (/topic/5g) टेस्ट बेड परियोजना के लिए आठ एजेंसियों के साथ भागीदारी की है और इसे 31 दिसंबर, 2021 तक पूरा किया जाना था। इन एजेंसियों में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) बॉम्बे, IIT दिल्ली, IIT हैदराबाद, IIT मद्रास, IIT कानपुर, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (IISC) बैंगलोर, सोसाइटी फॉर एप्लाइड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग एंड रिसर्च (SAMEER) और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन वायरलेस टेक्नोलॉजी (CEWiT) शामिल हैं।