Breaking News
Home / अपराध / बरेली में 8वीं की छात्रा का अपहरण, घर के मोबाइल में मिला एक संदिग्ध नंबर

बरेली में 8वीं की छात्रा का अपहरण, घर के मोबाइल में मिला एक संदिग्ध नंबर

बरेली जिले के प्रेमनगर थाना क्षेत्र के पॉश कॉलोनी में रहने वाली एक किशोरी व्यापारी पिता के साथ चार दिन पहले दुकान पर गई और संदिग्ध हालत में लापता हो गई। खोजबीन के चार दिन बाद भी किशोरी का पता नहीं चलने से परेशान पिता ने अनहोनी की आशंका से प्रेमनगर थाने में शिकायत की तो पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर छात्रा की तलाश शुरू कर दी है।

बड़े व्यापारी की है बेटी

प्रेमनगर के राजेंद्र नगर निवासी व्यापारी ने बताया कि उनकी 13 वर्षीय बेटी प्रेमनगर के एक स्कूल में 8वीं की पढ़ाई कर रही है। 10 नवंबर को वह उनके साथ उनके शॉप पर आई थी। कुछ देर बाद शाम 5 बजे वह घर जाने की बात कहकर निकली लेकिन घर नहीं पहुंची। जब वह घर पहुंचे तो परिजनों ने उनके साथ बेटी को न देख पूछा तो उन्होंने बताया कि वह तो काफी देर पहले ही घर के लिए निकली थी। जिसके बाद परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। इस दौरान उसकी सहेलियों से भी संपर्क किया लेकिन काई कुछ नहीं बता सका। चार दिन बाद भी उसका सुराग नहीं लगने पर परिजन रविवार सुबह प्रेमनगर थाने में पहुंचे और अनहोनी की आशंका जताते हुए अपहरण की तहरीर दी। जिसके बाद पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

घर के मोबाइल में मिला एक संदिग्ध नंबर

13 वर्षीय किशोरी के अपहरण का मामला सुन ssp रोहित सिंह सजवाण ने प्रेमनगर पुलिस से पूछताछ की और किशोरी के जल्द से जल्द सकुशल बरामदगी के निर्देश देते हुए दो टीमें गठित कर दी। इस दौरान पुलिस की एक टीम ने किशोरी के परिजनों से पूछताछ की तो पता चला किशोरी के पास कोई मोबाइल नंबर नहीं था। वह घर और पिता के मोबाइल का इस्तेमाल करती थी। जब वह लापता हुई ता उसके पास घर वाला कि पैड मोबाइल था।

पुलिस ने घर और पिता के मोबाइल की कॉल डिटेल निकाली तो घर के मोबाइल से एक संदिग्ध नंबर मिला। पुलिस ने नंबर की डिटेल निकाली तो नंबर उदय जाट पुत्र बबलू निवासी रोड नंबर 8 पावर आवास इज्जतनगर के नाम से रजिस्टर्ड मिला। परिजनों ने उदय को जानने से इन्कार कर दिया। परिजनों ने आशंका जताई कि उदय ने ही उनकी बेटी को गायब किया होगा। जिसके बाद पुलिस ने उदय के नाम मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

उदय की तलाश में दबिश, घर पर लगा था ताला

पुलिस की दूसरी टीम ने उदय के घर जाकर दबिश दी लेकिन वहां पर ताला लटका मिला। पुलिस ने आसपास के लोगों से उदय के बारे में पूछताछ की और उसका पता ठिकाना जानने का प्रयास किया। पुलिस अब उदय तक पहुंचने के लिए उसके मोबाइल की कॉल डिटेल और लोकेशन पता करने का प्रयास कर रही है। ssp रोहित सिंह सजवाण का कहना है मामला जुवेनाइल है, किशोरी को जल्द से जल्द सकुशल बरामद किया जाएगा।

Check Also

सीतापुर : कोविड लक्षणयुक्त व टीकाकरण से वंचित बुजुर्गों की पहचान के लिए 24 से चलेगा अभियान

सीतापुर। कोविड के प्रति जनजागरूकता व संवेदीकरण के साथ ही कोविड के लक्षणयुक्त व्यक्तियों व ...