फर्रुखाबाद में दर्दनाक हादसा : गंगा में डूबकर 10 की मौत, गंगा दशहरा पर स्नान करने गए थे सभी

0
4462

फर्रुखाबाद में गंगा दशहरा पर स्नान करते समय 10 लोगों की गुरुवार को डूबकर मौत हो गई। छह शवों की शिनाख्त हो गई है। अभी चार की शिनाख्त में पुलिस जुटी है। दरअसल, गुरुवार को दो लोगों के डूबने की सूचना पर गोताखोर गंगा में उतरे तो टीम को अंदर से 10 लोगों की डेड बॉडी मिली। मृतकों में फर्रुखाबाद के 3, मैनपुरी के दो और बदायूं के एक लोग की शिनाख्त हुई है।

दो शव ढूंढने गए, चार और डेड बॉडी मिल गईं
फर्रुखाबाद के जटवारा जदीद के रहने वाले अमित यादव उर्फ बाबा (18 साल) गुरुवार सुबह दोस्त दरीबा पश्चिम निवासी गोविंद यादव (17) के साथ पांचाल घाट पर गंगा में नहाने गया था। दोपहर तक जब दोनों घर नहीं लौटे, तो परिजनों ने खोजबीन की। इनकी साइकिल पांचाल घाट पर मिली। खोजबीन की गई, तो दोनों के शव गंगा में बरामद हुए। पुलिस ने बताया कि गोविंद और अमित की खोजबीन के दौरान गंगा में चार और शव बरामद हुए। इनकी शिनाख्त नहीं हो सकी है। इन शवों को मोर्चरी में रखवाया गया है।

मैनपुरी के दो लोगों की गई जान

मैनपुरी के थाना दन्नाहार के गांव हमीरपुर निवासी राहुल कुमार (25 साल), गांव के ही अनिल (22 साल) और चाचा विनोद कुमार के साथ गंगा स्नान करने आए थे। राहुल और अनिल स्नान करते समय डूब गए। गोताखोरों ने खोजबीन कर अनिल और राहुल का शव निकाला। चाचा विनोद की सूचना पर परिजन घाट पर पहुंचे और शव घर लेकर चले गए।

बदायूं के एक लोग की मौत
उधर, अटैना घाट से गोताखोरों को दो और शव मिले हैं। इनकी शिनाख्त फर्रुखाबाद के गांव नगला खमानी निवासी बॉबी और बदायूं की नगर पंचायत अलापुर के वार्ड तीन निवासी रामकिशोर (36 साल) के रूप में हुई है।

5 लोगों को बचाया गया
गोताखोरों ने सलावत खां निवासी गौतम शाक्य, पड़ोस के ही रजत, रिंकू, आदित्य और अनिकेत के साथ स्नान कर रहे थे। पांचों गहरे पानी में चले गए। डूबने लगे तो कुछ गोताखोरों और तैराकों ने पांचों लोगों को बचा लिया।