Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / प्राइवेट अस्पताल के संचालक ने कर डाला प्रसूता का आपरेशन, नवजात की मौत, मां की हालत गंभीर !

प्राइवेट अस्पताल के संचालक ने कर डाला प्रसूता का आपरेशन, नवजात की मौत, मां की हालत गंभीर !

सीएमओ ने जांच कराने के दिए निर्देश

अयोध्या। जनपद के कुमारगंज थानाक्षेत्र स्थित अली हास्पिटल के संचालक की लापरवाही के कारण एक नवजात की मौत हो गई। नवजात की मौत को लेकर परिजनों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस ने अस्पताल के संचालक को हिरासत मे लेकर पूछताछ की है। कभी परिजनों की ओर से थाने मे कोई तहरीर न दिए जाने के कारण पुलिस ने कोई एफआईआर दर्ज नही की है। फिलहाल नवजात की मौत के बाद प्रसूता की भी हालत गंभीर बताई जा रही है।
कुमारगंज थानाक्षेत्र के तिंदौली गांव निवासी सुधा पत्नी सोनू को प्रसव के लिए निजी अस्पताल ( अली हास्पिटल ) मे भर्ती कराया गया था। अस्पताल के संचालक भारत कुमार ने सुधा को आपरेशन से प्रसव कराने की राय देते हुए उसे भय दिखाया कि आपरेशन न कराने पर नवजात के पेट में गंदा पानी चला जाएगा जिससे उसकी मौत हो सकती है। सुधा ने आपरेशन के लिए सहमति दे दी। किन्तु उसे यह नहीं पता था कि भारत कुमार डाक्टर नहीं है। भारत ने स्वयं आपरेशन कर दिया। आपरेशन के बाद नवजात की हालत बिगड़ने लगी तो उसे रिफर कर दिया। दूसरे अस्पताल पहुँचने पर वहाँ डाक्टर ने शिशु को मृत घोषित कर दिया। अब अस्पताल मे सुधा की भी हालत खराब है। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल के संचालक ने प्रसव से पूर्व 13 हजार रुपये जमा करा लिए थे। कभी 40 हजार रुपये की और मांग कर रहा है। सुधा की हालत खराब है किन्तु उसे किसी अन्य चिकित्सक को दिखाने से मना कर रहा है।

**क्या कहते हैं अस्पताल के संचालक
अली हास्पिटल मे हुई नवजात की मौत को लेकर जानकारी करने पर अस्पताल के संचालक भारत कुमार ने बताया कि आपरेशन अमेठी के एक चिकित्सक ने किया है। भारत कुमार अपने को बीएमएस बता रहे हैं। सुधा के परिजनों का कहना है कि आपरेशन के समय भारत कुमार के अतिरिक्त वहाँ कोई अन्य चिकित्सक नहीं था

**क्या कहते हैं सीएमओ
अली हास्पिटल मे हुई नवजात की मौत व प्रसूता की हालत गंभीर होने के विषय मे जानकारी करने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय जैन ने बताया कि पहले भी अली हास्पिटल की हमें शिकायत मिली है। किसी ने लिखित शिकायत नहीं की थी। अतः कार्रवाई नहीं की गई थी। इस बार मैं स्वत: सज्ञान लेकर कार्रवाई करूँगा। उन्होंने कहा जांच टीम गठित कर दोनो पक्षों को सुना जाएगा।

Check Also

रिपोर्ट : लगातार बढ़ रहे गुस्से और चिढ़चिढ़ेपन के कारण रिश्ते हो रहे शर्मसार

नई दिल्‍ली। क्‍या रिश्‍तों की नई परिभाषा गढ़ी जानी चाहिए? दरअसल आजकल बच्चों और माता-पिता ...