Breaking News
Home / अपराध / पीलीभीत में मचा कोहराम : ईट भट्टे के गड्ढे में नहाने के दौरान 3 मासूमों की मौत

पीलीभीत में मचा कोहराम : ईट भट्टे के गड्ढे में नहाने के दौरान 3 मासूमों की मौत

एक ही परिवार के बच्चों की मौत के बाद मचा कोहराम

पीलीभीत। एक ईंट भट्टे पर रहकर मजदूरी कर रहे परिवार के 3 बच्चों की गहरे पानी में डूब कर मौत हो गई। हादसे के बाद कोहराम मचा हुआ है।

तहसील अमरिया क्षेत्र के गांव कांचू टांडा में एक ईंट भट्टे पर रहकर मजदूरी का कार्य कर रहे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। ईट बनाने के लिए खोदे गए गहरे गड्ढे में नहाने के दौरान 3 बच्चों की डूबकर मौत हो गई। ईट भट्टों पर नियम कानून को ठेंगा दिखाते हुए मनमाने तरीके से मिट्टी खनन जिले भर में आम बात हो गई है और विगत कुछ दिनों से यह गहरे गड्ढे बच्चों के लिए कब्रगाह बनते जा रहे हैं। कुछ दिन पहले थाना सेहरामऊ उत्तरी क्षेत्र में इस तरह की वारदात हुई थी, लेकिन इसके बाद संबंधित अधिकारियों ने ईट भट्टा मालिकों पर कोई कार्रवाई नहीं की। इसके चलते थाना अमरिया क्षेत्र के गांव कैंचू टांडा में 3 बच्चों की जान चली गई है।

ग्रामीण भूरा, छोटा और नाजिम ईट भट्टे पर रहकर मजदूरी कर रहे थे, मंगलवार को तीनों के बच्चे मुस्तकीम 12, रानू 09 और 4 वर्षीय अयान नहाने के लिए मिट्टी खनन किए गए गड्ढे में चले गए। नहाने के दौरान करीब 10 फीट गहरे गड्ढे के गहरे पानी में चले जाने से तीनों की डूब कर मौत हो गई। वारदात के बाद बच्चों की तलाश हुई और मिट्टी खनन के गहरे पानी में तीनों के शव मिलने पर कोहराम मच गया। आनन-फानन में ईट भट्टा पर पहुंचे सैकड़ों लोगों ने बच्चों की मौत का मंजर देखा तो आंखों से आंसू रोक नहीं सके। बच्चों की मौत के बाद जिलेभर में ईंट भट्टों पर चल रही बाल मजदूरी और कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। बड़े हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों बच्चों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Check Also

बाराबंकी : संदिग्ध परिस्थितियों में बालिका की मौत, कहीं हत्या तो नहीं

देवा थाना क्षेत्र के मोहल्ला कचेहरान में 12 वर्षीय बालिका का शव छत में लगे ...