Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / डीएम साहब! न खंभा न तार, बिल आया 28 हजार

डीएम साहब! न खंभा न तार, बिल आया 28 हजार

– अधिशासी अभियंता को डीएम ने चेताया, जांच कर सही करने का निर्देश

मीरजापुर  (हि.स.)। न बिजली का खंभा, न तार और न ही घर में कनेक्शन। फिर भी बिजली विभाग ने फरियादी के नाम से 28 हजार रुपये का बिजली बिल भेज दिया। जिलाधिकारी दिव्या मित्तल ने अधिशासी अभियंता दीपक सिंह पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल जांच कर बिल सही करने का निर्देश दिया।

संपूर्ण समाधान दिवस पर डीएम, एसपी संतोष कुमार मिश्र व सीडीओ श्रीलक्ष्मी वीएस ने मड़िहान तहसील में लोगों की समस्याओं को सुना। कहा कि प्रकरण का ससमय व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें। साथ ही फरियादियों की संतुष्टि का भी पूरा ख्याल रखें। उन्होंने फोन कर शिकायतकर्ता से निस्तारण संबंधी फीडबैक भी लिया। इस दौरान 130 में से महज नौ शिकायतों का निस्तारण हो सका। चाराें तहसीलों में कुल 581 मामले आए जिनमें से मौके पर सिर्फ 17 मामले ही निस्तारित हो पाए।

ग्राम खोरडीह की कमला देवी ने बताया कि खतौनी में कमाली देवी दर्ज हो गया है। राजस्व निरीक्षक को जानकारी न होने पर नाराजगी जताते हुए सही करने का निर्देश दिया। सिरसी गांव में सरकारी हैंडपंप को निजी चहारदीवारी में घेरने की शिकायत पर क्षेत्राधिकारी व बीडीओ को निर्देश दिया कि जांच कर एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई कराएं। चहारदीवारी से हटाकर हैंडपंप को सार्वजनिक कराएं। साथ ही पीएम किसान सम्मान निधि, किसान क्रेडिट, कार्ड पशुपालक घटक पंजीकरण आदि के स्टाल का निरीक्षण किया।

इस दौरान एसडीएम मड़िहान अश्वनी कुमार सिंह, पीडी अनय मिश्र, सीएमओ डा. राजेंद्र प्रसाद, प्रभागीय वनाधिकारी अधिकारी अरविंदराज मिश्र, डीपीआरओ अरविंद कुमार, प्रोबेशन अधिकारी शक्ति त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

सदर तहसील में डीआइजी आरपी सिंह के साथ एडीएम नमामि गंगे, एसपी सिंह श्रीकांत प्रजापति, एसडीएम सदर चंद्रभानु सिंह, सीओ सिटी परमानंद कुशवाहा ने लोगों की समस्या को सुना। इस दौरान 269 मामले आए, इसमें से महज दो का निस्तारण हो सका।

Check Also

रिपोर्ट : लगातार बढ़ रहे गुस्से और चिढ़चिढ़ेपन के कारण रिश्ते हो रहे शर्मसार

नई दिल्‍ली। क्‍या रिश्‍तों की नई परिभाषा गढ़ी जानी चाहिए? दरअसल आजकल बच्चों और माता-पिता ...