जवाहर नवोदय छात्रा मौत व दुष्कर्म मामला : तैयार हो रही संदिग्धो की सूची, एडीजी जल्द आयेगें कैंप कार्यालय

संदिग्धो ने दोवारा पूछतांछ कर सकती है एसआईटी

मैनपुरी। भोगांव के जवाहर नवोदय विद्यालय छात्रा की मौत व कथित हत्या और दुष्कर्म के मामले में एसआईटी कुछ संदिग्धों से दोबारा पूछताछ कर सकती है। वहीं जल्द एडीजी कानपुर कभी भी कैंप कार्यालय आ सकते हैं। इसके बाद संदिग्धों की सूची तैयार कर पूछताछ का सिलसिला शुरू होगा।

ज्ञात हो कि भोगांव के जवाहर नवोदय विद्यालय की छात्रा के मौत और दुष्कर्म मामले में एडीजी भानु भास्कर के निर्देशन में जांच कर रही एसआईटी आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री के पुत्र अंकुर अग्निहोत्री सहित कुछ संदिग्धों का नार्कों टेस्ट कराने जा रही है। एक टीम मामले में कुछ संदिग्धों से दोबारा पूछताछ की तैयारी में जुटी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एडीजी जल्द ही कैंप कार्यालय आएंगे और अब तक की कार्रवाई की समीक्षा करते हुए आगे की कार्रवाई की रूपरेखा तैयार करेंगे। वहीं दोबारा पूछताछ के लिए संदिग्धों को चिन्हित किया जाएगा, जिनसे कैंप कार्यालय पर एक बार फिर से पूछताछ की जाएगी। मिली जानकारी के अनुसार दोबारा पूछताछ के लिए करीब 13 लोगों के नाम पर चर्चा हो रही है। हालांकि अभी तक किसी के द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गई है। जानकारी यह भी मिली है कि हाल ही में एसआईटी ने कुछ लोगों की रेकी भी कराई है, इन लोगों पर लगातार एक टीम नजर भी रख रही है।

डीजीपी हो चुके हैं तलब
छात्रा मौत मामले में हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान विवेचना से संतुष्ट नहीं होने पर हाईकोर्ट ने प्रदेश के डीजीपी आशुतोष पांडेय तक को तलब कर लिया था। उनको एक दिन के लिए प्रयागराज नहीं छोड़ने का निर्देश दिया था। दूसरे दिन अभियोजन का स्पष्ट पक्ष रखने पर ही उनको प्रयागराज से लखनऊ जाने की अनुमति हाईकोर्ट ने दी थी।

सीबीआई जांच के लिए दिया था धरना
छात्रा की मौत के बाद उसके परिजनों ने नगर पालिका के शहीद पार्क में सीबीआई जांच कराने की मांग करके धरना दिया था। डीएम ने शासन के लिए पत्र भी लिखा था। शासन ने केंद्र सरकार को पत्र भेजकर सीबीआई जांच कराने की संस्तुति भी की थी, लेकिन सीबीआई जांच को मंजूरी नहीं मिल सकी।