जब गोद लिए दो कुपोषित बच्चों का हाल जानने पहुंचे सीएमओ खीरी, जानिए फिर क्या हुआ…

0
318
एक बच्चे की हालत चिंताजनक देखकर उसे एनआरसी में भर्ती कराने के अधिकारियों को दिए निर्देश
लखीमपुर खीरी।
कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत सीएमओ डॉ. शैलेंद्र भटनागर ने फूलबेहड़ सीएचसी के अंतर्गत गांव खेतौसा के दो बच्चों को गोद लिया था। जिनसे मिलने वह शुक्रवार को पहुंचे। उन्होंने उनके माता-पिता को पोषण पोटली दी और बच्चों का हालचाल जाना। एक बच्चे की हालत चिंताजनक दिखी जैसे एनआरसी में भर्ती करने के निर्देश दिए हैं।इस दौरान सीएमओ डॉ शैलेंद्र भटनागर ने कहा कि शासन द्वारा गांव-गांव तक कुपोषण को खत्म करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत जिले के अधिकारियों और तमाम जनप्रतिनिधियों ने कुपोषित बच्चों को गोद लिया है।
उनके द्वारा भी ग्राम खेतौसा के दो बच्चों शारांस 8 माह व करण 7 माह को गोद लिया है। इनका हाल-चाल जानने वे स्वयं शुक्रवार को पहुंचे। जहां करण की स्थिति उन्हें चिंताजनक दिखी। जिसके बाद उन्होंने उसे तत्काल प्रभाव से एनआरसी में एडमिट कराने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। साथ ही माता-पिता को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। इस दौरान उनके साथ डीईआईसी मैनेजर अमित खरे, सीडीपीओ पूजा त्रिपाठी व आंगनबाड़ी कार्यकत्री उपस्थित रहे।