खाने के बाद अगर टूथपिक का करते हैं इस्तेमाल तो आज ही छोड़ दें वरना…

0
12

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनको कुछ भी खाने के बाद टूथपिक या माचिस की तीली का इस्तेमाल करना पसंद होता है। ऐसे लोगों की टूथपिक या माचिस की तीली से दांत साफ करने की आदत होती है। इसे आम भाषा में लोग दांत खोदना कहते हैं। लेकिन अगर आपको यह आदत है तो यह आपको बहुत बड़ी मुश्किल में डाल सकती है। आपको बता दें कि टूथपिक या माचिस की तीली से दांत खोदने से आपके दांतों और मसूड़ों में एक नहीं बल्कि कई सारी दिक्कतें हो सकती हैं। आज हम आपको इन्ही के बारे में बताने जा रहे हैं।

दांतों के बीच गैप आ सकता है- टूथपिक से दांत साफ़ करने से आपके दांतों के बीच में गैप आ सकता है। जी हाँ और यह देखने में तो खऱाब लग ही सकता है साथ ही इनमें खाना फंसने से कैविटी होने की दिक्कत भी हो सकती है। दांत कमजोर हो सकते हैं- आपको बता दें कि कई बार टूथपिक और माचिस की तीली से दांत साफ़ करते हुए कुछ लोग उसको चबाने भी लगते हैं। ऐसा करने से दांतों के इनेमल की परत को नुकसान हो सकता है जिससे दांत कमजोर हो सकते हैं।

दांतों की जड़ों को नुकसान हो सकता है- लगातार और बार-बार टूथपिक के इस्तेमाल से दांतों की जड़ें भी कमजोर हो सकती हैं। जी दरअसल, कई बार ऐसा भी होता है जब टूथपिक टूट जाती है और उसका टुकड़ा टूटकर दांतों में फंस सकता है जिससे टिशूज को नुकसान हो सकता है।
मसूड़ों से खून आ सकता है- टूथपिक या माचिस की तीली से दांत खोदने से मसूड़ों में जख्म लग सकता है। इसी के साथ मसूड़ों में चोट लग सकती है और खून भी आ सकता है।

क्या तरीके अपना सकते हैं आप-
* टूथपिक या माचिस की तीली से दांत साफ करने की आदत छोड़ दें, लेकिन अगर न छोड़ सकें तो आप इसके लिए किसी और तीली की जगह नीम की तीली का इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि नीम एंटीबैक्टीरियल होता है।
* रोजाना खाना खाने के बाद कुल्ला करने की आदत डालें। इसके लिए नमक वाले गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें तो ज्यादा अच्छा होगा।
* खाना खाने के बाद ब्रश करने की आदत डालें।