Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / खत्म हुई मुख्तार की सल्तनत : माफिया की हार्ट अटैक से मौत, समूचे प्रदेश में हाई अलर्ट

खत्म हुई मुख्तार की सल्तनत : माफिया की हार्ट अटैक से मौत, समूचे प्रदेश में हाई अलर्ट

मुख्तार अंसारी की हार्ट अटैक से मौत, समूचे प्रदेश में हाईअलर्ट
 
– समूचे प्रदेश में चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात, गाजीपुर से परिवार आनन-फानन में बांदा के लिए रवाना

बांदा। माफिया सरगना मुख्तार अंसारी को लेकर बड़ी खबर। गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने के कारण मुख्तार अंसारी की जिंदगी का सफर थम गया। मुख्तार की मौत के बाद प्रदेश सरकार ने हाई-अलर्ट जारी करते हुए सभी शहरों और मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में जबरदस्त चौकसी और सख्ती करने का आदेश जारी किया है। मौत की खबर मिलते ही मुख्तार का परिवार गाजीपुर से बांदा के लिए निकल चुका है।

शाम सात बजे अटैक, नौ बजे मौत
जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की शाम पांच बजे बांदा जेल की बैरक में मुख्तार बेहोश होकर गिर गया। नाजुक हालत में उसे बांदा के रानी दुर्गावती मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया, जहां डाक्टर्स ने हार्ट अटैक बताते हुए इलाज शुरू किया। डाक्टर्स की टीम की तमाम कोशिश के बावजूद रात लगभग नौ बजे मुख्तार की जिदंगी का अंत हो गया। है। रमजान और चुनावी मौसम को देखते हुए मुख्तार की मौत की सूचना सार्वजनिक करने से पहले सरकार ने सुरक्षा इंतजामों को पुख्ता किया। बांदा जेल प्रशासन के साथ-साथ अस्पताल प्रबंधन और जिला प्रशासन को इस बारे में कुछ भी बोलने से रोक दिया गया था। साथ ही मेडिकल कालेज कैंपस को छावनी बनाकर पुलिस फोर्स और पैरामीलिट्री फोर्स को तैनात कर दिया गया।

साढ़े दस बजे मौत की पुष्टि, चप्पे-चप्पे पर पुलिस
मुख्तार की मौत के बाद कानपुर, मऊ, गाजीपुर, आजमगढ़, लखनऊ समेत तमाम शहरों में रात दस बजे से सुरक्षा व्यवस्था को चौकस कर दिया गया है। मुस्लिम इलाकों में पैरामीलिट्री फोर्स की तैनाती के साथ-साथ अतिरिक्त फोर्स को मुस्तैद किया गया है। उधर, अफवाह पर अंकुश लगाने के लिए बांदा में रानी दुर्गावती मेडिकल कालेज कैंपस और बाहरी इलाकों को छावनी बना दिया गया है। अस्पताल कैंपस के अंदर घुसने की किसी को इजाजत नहीं है। इसी के साथ अस्पताल के अंदर से तीमारदारों को बाहर कर दिया गया है। मेडिकल स्टॉफ और कर्मचारियों के फोन बंद कराने के बाद जब्त कर लिए गये हैं। इस मामले में कोई भी अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं।

संवेदनशील इलाकों में पुलिस चौकस
मुख्तार की मौत के बाद प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश को हाई अलर्ट कर दिया है। मुख्तार के प्रभाव वाले जनपदों, मऊ, आजमगढ़, गाजीपुर के साथ-साथ वाराणसी, चंदौली, कानपुर, लखनऊ, बांदा में अतिरिक्त सुरक्षा इंतजाम के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। आदेश के तुरंत बाद रात दस बजे कानपुर के चौराहों पर पुलिस तैनात है। मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में पैरा मीलिट्री फोर्स की तैनाती है। इस बारे में कानपुर के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर विपिन मिश्रा का कहना है कि शुक्रवार को रमजान में जुमे की नमाज के मद्देनजर सुरक्षा इंतजाम चौकस किये गये हैं।

Check Also

लोकसभा निर्वाचनः प्रथम चरण में मप्र के छह संसदीय क्षेत्र में शुक्रवार को मतदान, जानें क्या है तैयारी

– मतदान दल आज मतदान सामग्री लेकर होंगे रवाना भोपाल । लोकसभा निर्वाचन-2024 के कार्यक्रम ...