Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कोरोना संकट : तीसरी लहर से पिटने को ग्रामीण क्षेत्रों में समिति बनाने के निर्देश

कोरोना संकट : तीसरी लहर से पिटने को ग्रामीण क्षेत्रों में समिति बनाने के निर्देश

-मथुरा मंे लगातार बढ रहे कोरोना के मरीज, सक्रिय केस 550 से उपर पहुंचे
मथुरा(आरएनएस)। मथुरा जनपद में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार बढ रही है। कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में समिति बनाने के निर्देश दिए गए हैं। रविवार को कार्यालय मुख्य चिकित्सा अधिकारी मथुरा की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक जनपद में बीते 24 घंटे के अंदर कुल 235 के पाॅजिटिव आए हैं। इसी के साथ जनपद में एक्टिव केस 560 हो गए थे। अब तक कुल पॉजिटिव 20909 के सामने आ चुके हैं। जबकि 24 घंटे के अंदर कुल नौ मरीज ठीक होकर जा चुके हैं।

कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या 19947 हो गई है। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, मुख्य विकास अधिकारी डॉ. नितिन गौड और जिला पंचायत राज अधिकारी किरण चैधरी ने अधीनस्थों को कोविड-19 की रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। प्रदेश में बढ़ते कोविड के मामलों एवं रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल के निर्देशानुसार जिला पंचायत राज अधिकारी किरण चैधरी ने ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड की रोकथाम के लिए निगरानी समितियों के गठन की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान अध्यक्ष, पंचायत सहायक सदस्य सचिव और ग्राम पंचायत सचिव सदस्य नामित किए गए हैं। आशा कार्यकर्ती, आंगनबाड़ी कार्यकत्री और ग्राम पंचायतों के समस्त राशन डीलर, ग्राम पंचायत के लेखपाल, रोजगार सेवक, स्वछग्रही, मंगल दल के सदस्य गण एवं ग्राम पंचायत के चैकीदार को भी समिति में सदस्य बनाया गया है।

इन सभी सदस्यों द्वारा कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति को स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराई गई मेडिकल किट का वितरण किया जाएगा। इसके साथ ही बाहर से आने वाले व्यक्ति की पल्स ऑक्सीमीटर चेकअप, थर्मल् स्क्रीनिंग रिपोर्ट आदि की प्रशासन को सूचना देना आवश्यक होगा। इसके साथ ही समितियों के ऊपर जिम्मेदारी यह भी रहेगी कि यदि कोई व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर है या फिर निर्धन है तो ऐसे व्यक्ति को कोविड प्रोटोकॉल के तहत विभिन्न शासनादेश के तहत आर्थिक मदद और सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इस संबंध में जिला पंचायत राज अधिकारी किरण चैधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि सभी ग्राम पंचायत समितियों के पुनर्गठन के निर्देश दे दिए गए हैं तथा आगामी दिनों में समितियां संचालित अपने कार्यों में जुट जाएंगी। उन्होंने बताया कि विधानसभा चुनाव भी होने हैं, ऐसे में विशेष प्रकार की तैयारियां समितियों द्वारा की जा रही हैं और इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन पर भी विशेष तौर से प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है।

Check Also

प्रतापगढ़ : 42 वर्षों से रामपुर खास में फहरा रहा है कांग्रेस का झण्डा

– पिता से विरासत में मिली विधायिकी को बचाना मोना के लिये चुनौती लालगंज, प्रतापगढ़। ...