Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कानपुर जोन में 2893840 घरों को नल का कनेक्शन देने का लक्ष्य, जानिए क्या है तैयारी

कानपुर जोन में 2893840 घरों को नल का कनेक्शन देने का लक्ष्य, जानिए क्या है तैयारी

– वर्तमान में कुल 1059228 घरों तक हो चुका है गृह जल संयोजन

कानपुर, (हि.स.)। केन्द्र की मोदी सरकार नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति योजना के तहत प्रत्येक गांव के अंतिम घर तक जल पहुंचाने कार्य जारी है। कानपुर जोन के नौ जिलों में 2893840 घरों में कनेक्शन लेने का लक्ष्य है। जबकि अब तक कुल 1059228 घरों को कनेक्शन दिया जा चुके हैं। जैसे-जैसे नई योजनाएं मंजूर हो रही है और कनेक्शन देने का लक्ष्य भी बढ़ रहा है। हालांकि प्रतिदिन कनेक्शन देने की संख्या में भी वृद्धि हो रही है। यह जानकारी शुक्रवार को उप्र जल निगम कानपुर ग्रामीण के मुख्य अभियंता आर.बी.राम ने दी।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में 10 लाख 59 हजार 228 घरों का गृह जल संयोजन किया जा चुका है। हालांकि कार्य जारी है और प्रतिदिन यह संख्या भी बढ़ रही है। इसमें प्रयागराज, प्रतापगढ़, कौशांबी, फतेहपुर, कानपुर नगर, कानपुर देहात, औरैया, कन्नौज, इटावा, फर्रुखाबाद जिला शामिल हैं।

कानपुर जोन के प्रयागराज जिले में 362568 घरों को कनेक्शन देने का लक्ष्य वर्तमान में है। अब तक 169185 घरों को कनेक्शन दिया जा चुका है। वर्तमान में 2814 किलोमीटर पाइप लाइन डाली जा चुकी है। इसी तरह प्रतापगढ़ में 521951 घरों में जल संयोजन का लक्ष्य है और 125080 घरों में कनेक्शन दिया जा चुका है। यहां 15211 किलो मीटर पाइप बिछनी है और 3952 किलोमीटर लाइन बिछाई जा चुकी है।

इसी तरह फतेहपुर में 423705 घरों में कनेक्शन देने का लक्ष्य है और 83686 घरों को कनेक्शन दिया जा चुके हैं। कौशाम्बी में 236604 घरों में कनेक्शन देने का लक्ष्य है और 93287 घरों का कनेक्शन दिया जा चुका है। कानपुर नगर के ग्रामीण क्षेत्र में 264446 घरों में कनेक्शन देने का लक्ष्य है। जबकि 70401 घरों तक कनेक्शन दिया जा चुके हैं। कानपुर देहात में 278772 घरों तक कनेक्शन देने का लक्ष्य है जबकि 199583 घरों तक कनेक्शन दे दिए गए हैं। औरैया जिले में 216804 घरों का लक्ष्य है जबकि 79210 घरों तक कनेक्शन दिया जा चुके हैं। कन्नौज जिले के 203657 घरों में कनेक्शन दिया जाना है जबकि 90631 घरों तक नल का कनेक्शन दिया जा चुके हैं। इटावा जनपद में 184031 घरों का लक्ष्य है जबकि 58705 घरों तक कनेक्शन दिया जा चुके हैं और फर्रुखाबाद जिले में 201302 घरों का लक्ष्य है जबकि 89460 घरों को कनेक्शन दिया जा चुके हैं।

सभी जिलों में अलग-अलग कंपनियों पर कार्य पूरा करने की दी गई है जिम्मेदारी

मुख्य अभियंता ने बताया कि कानपुर नगर के ग्रामीण क्षेत्र में दो कंपनियां काम कर रही हैं। इसमें एक बीएसआईपीपीएल और दूसरी विन्ध्या टेलीकॉम लिमिटेड को कार्य करने की जिम्मेदारी है। योजना कार्य पूरा हो जाने के बाद उसकी देखरेख एवं संचालन की जिम्मेदारी पंचायत विभाग को दी जाएगी। हालांकि कार्यदायी संस्था दस वर्ष तक उसकी देखरेख करेगी। इसी तरह सभी जिलों में अलग-अलग कंपनियां कार्य कर रही है।

मुख्य अभियंता ने बताया कि यह योजना केन्द्र एवं राज्य सरकार की सबसे महत्वपूर्ण प्राथमिकता पर है। कार्यक्षेत्र में कुछ समस्याएं भी आ रही है। हालांकि उन्हें दूर करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के जिम्मेदार अधिकारियों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों का सहयोग लेकर दूर भी किया जा रहा है।

Check Also

प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में फुलवरिया फ्लाईओवर का किया निरीक्षण, देखें तस्वीरें

वाराणसी  (हि.स.)। गुजरात में पूरे दिन व्यस्त और लम्बे कार्यक्रम, हवाई सफर के बाद गुरुवार ...