Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / एक्सप्रेस-वे की तरह चौड़े और सुंदर होंगे उत्तर प्रदेश के हाईवे, जानिए क्या है सरकार की तैयारी

एक्सप्रेस-वे की तरह चौड़े और सुंदर होंगे उत्तर प्रदेश के हाईवे, जानिए क्या है सरकार की तैयारी

-प्रदेश के कई राज्य मार्गों के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण के काम ने पकड़ा जोर

-लोक निर्माण विभाग की ओर से धनराशि आवंटित

लखनऊ,  (हि.स.)। उत्तर प्रदेश में सड़क यात्रा को सुगम और सुरक्षित बनाने एवं यात्रा अवधि को कम करने के लिए प्रदेश में तीन राज्यमार्गों के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण के काम ने जोर पकड़ लिया है। वहीं, प्रदेश के कई क्षेत्रों में चिह्नित ब्लैक स्पॉट्स के निराकरण के साथ ही आगरा में तीन व बरेली में छह सेतुओं के निर्माण से संबंधित कार्यों को पूर्ण करने के लिए योगी सरकार ने धनराशि आवंटन को स्वीकृत किया है।

तीन राज्यमार्गों के लिए 58 करोड़ स्वीकृत

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि योगी सरकार ने तीन राज्यमार्गों में जारी कार्यों के लिए कुल 58 करोड़ की धनराशि स्वीकृत कर उसके आवंटन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस क्रम में कौशांबी पर्यटन स्थल को प्रयागराज एयरपोर्ट से जोड़ने वाले मार्ग को फोरलेन करने के लिए 50 करोड़, प्रयागराज से भारतगंज-प्रतापपुर मार्ग के चौड़ीकरण व आजमगढ़ में चिरैयाकोट बेल्थरारोड के चेनेज व दो लेन में 39.6 किमी तक चौड़ीकरण के लिए 4-4 करोड़ रुपए की धनराशि जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस क्रम में पहली किस्त में 46.0 करोड़ व दूसरी किस्त में 12.4 करोड़ रुपए की धनराशि अवमुक्त करने का लोक निर्माण विभाग द्वारा आदेश जारी किया गया है।

सेतुओं के निर्माण के लिए भी धनराशि जारी

प्रवक्ता ने बताया कि साल 2018 से 2022 के बीच आगरा मंडल क्षेत्र में स्वीकृत हुए तीन सेतुओं के लिए कुल 4.54 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई है। इसके तहत मथुरा में पीलीभीत से भरतपुर मार्ग पर (कृष्णपुरी चौराहे के निकट) बन रहे सेतु, फिरोजाबाद में आया नदी पर लघु पुल और मैनपुरी के मददापुर से मिर्जापुर मार्ग पर लघु सेतु व पहुंच मार्ग में सुरक्षात्मक कार्यों के लिए मौजूदा स्वीकृत राशि का उपयोग किया जाएगा। वहीं, बरेली में छह विभिन्न सेतुओं के निर्माण के लिए 9 करोड़ दो लाख रुपए व बस्ती में निर्माणाधीन नए पुल के लिए 1.10 करोड़ रुपए के धनराशि आवंटन को हरी झंडी मिल गई है।

ब्लैक स्पॉट्स के निराकरण पर भी जोर

उन्होंने बताया कि दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों में चिह्नित ब्लैक स्पॉट के निराकरण और सड़क सौंदर्यीकरण को लेकर भी कार्रवाई को अंजाम देने की प्रक्रिया निरंतर जारी है। इस क्रम में, अमरोहा जिले के हसनपुर स्थित मार्गों पर चिह्नित ब्लैक स्पॉट और हरदोई के बिलग्राम साणडी-अललगंज मार्ग पर भी चिह्नित ब्लैक स्पॉट के निराकरण के लिए 1.74 करोड़ रुपए की धनराशि स्वीकृत की गई है। साथ ही, संबंधित रोड स्ट्रेच में पड़ने वाले चौराहों के सुदृढ़ीकरण को लेकर भी इसी राशि का उपयोग किया जाएगा। प्रदेश के अन्य हिस्सों में भी इसी प्रकार ब्लैक स्पॉट्स के निराकरण की प्रक्रिया जारी है।

राज्य संपत्ति निधि से प्रयागराज के 35 मार्गों का होगा कायाकल्प

सरकारी प्रवक्ता के अनुसार राज्य संपत्ति निधि के उपयोग से प्रदेश के प्रयागराज मंडल स्थित विभिन्न जिलों के 35 मार्गों के कायाकल्प का मार्ग होगा। इस क्रम में, वर्ष 2021 से 2023 के मध्य स्वीकृत इन मार्गों के निर्माण के लिए 10.63 करोड़ रुपये की अनुमानित राशि आवंटित किए जाने का आदेश लोक निर्माण विभाग से हो गया है। इनमें फतेहपुर में 6, प्रतापगढ़ में 9, कौशाम्बी में 8 और प्रयागराज में कुल 12 प्रस्तावित मार्गों के निर्माण, सुदृढ़ीकरण और रख-रखाव के लिए इस धनराशि का प्रयोग होगा। इसके अलावा, राजमार्गों के एंट्री-एग्जिट प्वॉइंट्स और धार्मिक पर्यटन के लिहाज से प्रमुख स्थलों के कॉरीडोर्स पर स्वागत द्वार बनाने की दिशा में भी प्रदेश सरकार के दिशा-निर्देशन में लोक निर्माण विभाग द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं।

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...