Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / उप्र में कृषि रक्षा रसायनों की खरीद के लिए 23.92 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति, पढ़ें पूरी खबर

उप्र में कृषि रक्षा रसायनों की खरीद के लिए 23.92 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति, पढ़ें पूरी खबर

-किसानों को समय से उचित मात्रा में मिल सकेंगे कृषि रक्षा रसायन : सूर्य प्रताप शाही

-दलहन तथा तिलहन बीजों के निःशुल्क मिनी किट वितरण के लिए भी पांच-पांच करोड़ की मंजूरी

लखनऊ (हि.स.)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कृषि रक्षा रसायनों की खरीद के लिए 23.92 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है। राज्य सरकार ने दलहन तथा तिलहन बीजों के निःशुल्क मिनीकिट वितरण के लिए भी पांच-पांच करोड़ की मंजूरी दी है।

प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने मंगलवार को यहां बताया कि राज्य सरकार प्रदेश के किसानों की आय बढ़ाने तथा उनकी फसलों को नुकसान से बचाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि किसानों को परिश्रम से तैयार की गई अपनी फसलों के लिए समय से उचित मात्रा में कीटनाशक तथा रसायन प्राप्त हो सके, इस उद्देश्य से 8,56,427 किग्रा कृषि रक्षा रसायनों की खरीद के लिए सरकार द्वारा 23,92,69,700 की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

उन्होंने बताया कि इस धनराशि के अंतर्गत मैलाथियान 05 प्रतिशत धूल के लिए रुपये 61,00000, क्लोरपाइरीफास 10 प्रतिशत दानेदार के लिए 1,00,81,000 रुपये, डाईमेथोएट 30 प्रतिशत ईसी के लिए रुपये 1,56,80,500, क्लोरपाइरीफास 20 प्रतिशत ईसी के लिए रुपये 2,28,72,200, सल्फर 80 प्रतिशत डब्ल्यूपी के लिए रुपये 1,67,85,000, मैंकोजेब 75 प्रतिशत डब्लूपी के लिए रुपये 2,56,24,000, कापर आक्सी क्लोराइड डब्ल्यूपी 50 प्रतिशत के लिए रुपे 2,72,16,000, विसपाइरीबैक सोडियम 10 प्रतिशत एससी के लिए रुपये 2,89,87,500, मेटसल्फ्यूरान मिथाइल 20 प्रतिशत डब्ल्यूजी के लिए रुपये 53,57,750, सल्फोसल्फ्यूरान 75 प्रतिशत डब्लूजी के लिए रुपए 3,29,22,750, एल्यूमिनियम फास्फाइड 56 प्रतिशत (पाउच) के लिए रुपए 3,25,50,000 तथा जिंक फास्फाइड 80 प्रतिशत टेक के लिए रुपए 1,50,93,000 की स्वीकृति शामिल है। इस प्रकार कुल 23,92,69,700 रुपये की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

इसके अतिरिक्त एक अन्य वित्तीय स्वीकृति में निःशुल्क तिलहन बीज मिनीकिट वितरण एवं प्रसार कार्यक्रम “योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए 15 करोड़ रुपये के प्रस्ताव के सापेक्ष पांच करोड़ की शासन द्वारा सशर्त सहमति प्रदान कर दी गयी है। इसके साथ ही दलहन बीज मिनीकिट वितरण के लिए भी पांच करोड़ की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...