Breaking News
Home / अपराध / उप्र एटीएस ने इस जिले से पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया, सेना के खिलाफ कर रहा था जासूसी

उप्र एटीएस ने इस जिले से पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया, सेना के खिलाफ कर रहा था जासूसी

गोण्डा,  (हि.स.)। उत्तर प्रदेश एटीएस ने गोण्डा जिले के तरबगंज थाना क्षेत्र के दीनपुरवा के रहने वाले पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट मोहम्मद रईस को गिरफ्तार किया है। दो माह पहले मोहम्मद रईस मुंबई से अपने घर लौट था। यूपी एटीएस को रईस के खिलाफ सेना सहित अन्य महत्वपूर्ण सूचनाओं को आईएसआई तक पहुंचाने के अहम सबूत मिले हैं।

यूपी एटीएस ने रविवार को बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट मोहम्मद रईस को गोण्डा से गिरफ्तार किया गया। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को सूचना मिलने के बाद इसकी जानकारी यूपी एटीएस को दी गई थी। यूपी एटीएस ने जांच पड़ताल शुरू किया तो सारा मामला सामने आ गया। रईस अपने घर से मजदूरी करने मुंबई गया था। वहां पर अकरम नाम के व्यक्ति से इसकी मुलाकात हुई। अरमान ने भारत में मुस्लिमों पर जुल्म और बाबरी मस्जिद की शहादत का जिक्र करते हुये रईस को भड़काया और भारत के खिलाफ जासूसी करने के प्रेरित किया।

रईस ने अरमान को बताया कि वह सऊदी अरब जाकर काम करना चाहता है। इस पर अरमान ने कहा कि मैं तुम्हारा नम्बर पाकिस्तान के एक व्यक्ति को दे दूंगा। वह तुम्हें कॉल करेगा। अगर तुम उसकी बात पर खरा उतर गए। तो वह तुम्हें भारत के खिलाफ काम करके बदला लेने का मौका देगा। इसके बदले तुम्हें मोटी रकम मिलेगी। साथ ही साथ दुबई में नौकरी भी दिला देगा। फिर वर्ष 2022 में रईस के पास एक विदेशी व्हाट्सएप कॉल आई। उसने अरमान का जिक्र करते हुए बात किया। उसने हुसैन नाम के किसी व्यक्ति के बारे में बताया कि वह तुमसे बात करेगा और तुम्हें क्या करना है, यह बताएगा। इसके बाद रईस और हुसैन की बात होने लगी। हुसैन ने अपने को पाकिस्तानी एजेंट बताया। उसने कहा कि हमें आपके साथ काम करने के लिए प्रेरित किया गया है। इस काम के बदले में हुसैन ने रईस को पैसे देने का वादा किया।

पाकिस्तान को भेजी भारत की महत्वपूर्ण जानकारियां

यूपी एटीएस की पूछताछ में रईस ने बताया कि उसने सैन्य प्रतिष्ठानों के फोटो और कुछ जरूरी जानकारियां पाकिस्तान को भेजी हैं। इसके साथ उसने अपने दोस्तों को भी आईएसआई के साथ जोड़ा। रईस को पाकिस्तान के हैंडलर ने बांग्लादेशी नंबर मुहैया कराया था। रईस को इसके बदले में 15 हजार रुपये भी मिले थे। पाकिस्तानी जासूसों से भारत विरोधी बातचीत करने के व्यापक सबूत मिले हैं। जो आज भी रईस की मोबाइल में मौजूद हैं। अब यूपी एटीएस अरमान और रईस के दोस्त सलमान की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए हैं।

Check Also

आंखों में धुधला दिखाई दे तो तुरंत कराए जांच, इसे नजरअंदाज करने की ना करें भूल

नई दिल्ली (ईएमएस) । आंखों के एक्सपर्ट का कहना है कि अगर किसी को देखने ...