उत्तर से दक्षिण की ओर बढ़ी ‘अग्निपथ’ की आग, विरोध प्रदर्शन से 200 से ज्यादा ट्रेनें हुई प्रभावित

0
494

– बिहार और तेलंगाना में प्रदर्शनकारियों ने लगाई ट्रेनों में आग

– आंदोलन प्रभावित इलाकों से गुजरने वाली ट्रेनें बुरी तरह प्रभावित

नई दिल्ली । सेना में भर्ती की नई योजना ‘अग्निपथ’ के विरोध में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन बिहार सहित देशभर के विभिन्न राज्यों में व्यापक स्तर पर हिंसा, हंगामा, आगजनी और फायरिंग की घटनाएं हुईं। तेलंगाना में एक प्रदर्शनकारी की गोली लगने से मौत हो गई। विभिन्न राज्यों में ट्रेनें प्रदर्शनकारियों का निशाना बनी हैं और ट्रेनों में आग लगाने की कई घटनाएं हुईं। विरोध प्रदर्शन से 200 से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित हुई, जबकि बड़ी संख्या में ट्रेनें विभिन्न स्टेशनों पर फंसी हुई हैं। आंदोलन प्रभावित इलाकों से गुजरने वाली कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

बिहारः ‘अग्निपथ’ योजना के विरोध में बिहार के विभिन्न जिलों में आज लगातार तीसरे दिन बड़े पैमाने पर हिंसा और आगजनी की खबरें हैं। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने रेलवे स्टेशनों, ट्रेनों, बसों और सड़कों के साथ-साथ भाजपा नेताओं के आवास व गाड़ियों को भी निशाना बनाया। मुहिउद्दीननगर रेलवे स्टेशन पर जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी। बिहियां रेलवे स्टेशन पर व्यापक स्तर पर तोड़फोड़ हुई और बुकिंग काउंटर को काफी नुकसान पहुंचाया गया है। सुपौल रेलवे स्टेशन पर भी प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ हुई। बक्सर, आरा, लखीसराय सहित राज्य के कई रेलवे स्टेशनों पर प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनों को बाधित कर दिया।

पाली में प्रदर्शनकारियों ने थाना में आग लगा दी। पुलिस ने हवाई फायरिंग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। जबकि रोहताश में प्रदर्शनकारियों ने टोल प्लाजा में आग लगा दी। पुलिस ने हवाई फायरिंग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। नवादा में प्रदर्शनकारियों ने भाजपा कार्यालय में आग लगा दी।

राज्य की उप मुख्यमंत्री रेणु देवी के बेतिया स्थित आवास को भी प्रदर्शनकारियों ने निशाना बनाया। रेणु देवी के आवास पर काफी संख्या में प्रदर्शनकारियों ने हमला कर गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। यहां पहुंचे पुलिस दल पर भी पथराव किया गया।

राज्य के भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल के बेतिया स्थित आवास पर पथराव किया गया। भाजपा विधायक बिनय बिहारी की गाड़ी में प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की। जबकि समस्तीपुर के भाजपा नेता बिजेंद्र यादव के घर पर पथराव की खबरें हैं।

तेलंगानाः अग्निपथ योजना के विरोध की आग तेलंगाना भी पहुंच गई है। राज्य के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर उग्र प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने मुख्य रेलवे स्टेशन स्थित रेलवे पार्सल ऑफिस और ईस्ट कोस्ट एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बों में आग लगा दी। इस दौरान रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के बीच अफरातफरी और भगदड़ की स्थिति बन गई। प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी जिसमें दामोदर नाम के एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई।

प्रदर्शन के दौरान हिंसक घटनाओं को देखते हुए दक्षिण मध्य रेलवे ने 200 से अधिक ट्रेनों और शहर की एमएमटीएस रेल सेवा रद्द कर दी है। प्रदर्शनकारियों ने सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन के निकट राज्य परिवहन निगम की बसों को भी नुकसान पहुंचाया है। पार्सल ऑफिस आग लगने से 20 करोड़ से अधिक के नुकसान का आधिकारिक अनुमान है।

झारखंडः बिहार से शुरू हुई अग्निपथ योजना के विरोध की तपिश पड़ोसी राज्य झारखंड में भी पहुंच गई है। राज्य के पलामू और धनबाद जिले में शुक्रवार सुबह से ही प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर आए। जगह-जगह प्रदर्शनकारियों ने टायर जलाकर केंद्र सरकार के विरोध में नारेबाजी की। प्रदर्शनकारी सड़कों और रेल की पटरियों पर बैठ गए। इस दौरान डाल्टेनगंज में मालगाड़ी के इंजन में तोड़फोड़ की गई। एक स्थान पर प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

उत्तर प्रदेशः राज्य के वाराणसी, बलिया, कानपुर सहित कई दूसरी जगहों पर अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन और हंगामा हुआ। पुलिस को इन प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ी। वाराणसी में कैंट रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने जमकर हंगामा किया। प्रदर्शनकारियों ने रेल पटरियों में आग लगा दी। सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़कर आग बुझाई। शहर के रोडवेज, चौकाघाट और इंग्लिशिया लाइन में प्रदर्शनकारी युवकों ने वाहनों पर पथराव किया।

उधर, बलिया में भी प्रदर्शन के दौरान हंगामे की खबर है। यहां प्रदर्शनकारियों ने बलिया मॉडल रेलवे स्टेशन के वाशिंग पिट में खड़ी ट्रेन के कोविड कोच को आग के हवाले कर दिया। वाराणसी मेमू एवं बलिया-शाहगंज ट्रेनों में भी तोड़फोड़ की गई। भीड़ ने प्लेटफॉर्म की दुकानों और बसों पर भी पथराव किया। पुलिस व आरपीएफ जवानों ने कोविड कोच में लगाई गई आग पर किसी तरह नियंत्रित किया। कानपुर देहात में लालपुर रेलवे ट्रैक पर जमा प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

मध्य प्रदेशः अग्निपथ योजना के विरोध में राज्य के इंदौर, ग्वालियर सहित कुछ अन्य स्थानों पर उग्र प्रदर्शन, पथराव और तोड़फोड़ के बीच ट्रेनों को रोके जाने के समाचार हैं। इंदौर में प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पर ट्रेनों को रोक दिया और पथराव कर दिया। जिसमें बाणगंगा थाने के एक एसआई स्वराज डाबी के कान के हिस्से में गहरी चोट आई है। प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया।

पश्चिम बंगालः केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना अग्निपथ का पश्चिम बंगाल में भी विरोध शुरू हो गया है। शुक्रवार सुबह उत्तर 24 परगना के ठाकुरनगर में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनें रोकी और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान ट्रेनों का आवागमन बुरी तरह प्रभावित हुआ और यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।

सिलीगुड़ी में प्रदर्शनकारियों ने एनजेपी स्टेशन पर काफी हंगामा किया। कई चौक-चौराहों पर प्रदर्शनकारियों ने टायर जलाकर नारेबाजी की।

कोलकाता को राज्य के दक्षिणी हिस्से से जोड़ने वाले एतिहासिक हावड़ा ब्रिज को भी प्रदर्शनकारियों ने जाम कर दिया। काफी समय तक गाड़ियों की आवाजाही रुकी रही। कोलकाता पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर प्रदर्शनकारियों को समझा-बुझाकर हटाया।

हरियाणाः राज्य में अग्निपथ योजना के विरोध में कई स्थानों पर सड़क जाम और ट्रेनों को बाधित किया गया। जींद में प्रदर्शनकारियों ने नेशनल हाईवे को जाम कर दिया जबकि नरवाना में रेलवे ट्रैक पर जमाकर होकर प्रदर्शन किया। भिवानी में भी प्रदर्शनकारियों ने भिवानी-हिसार हाईवे को जाम कर दिया।

उत्तराखंडः राज्य के पिथौरागढ़, चंपावत, हल्द्वानी सहित कुछ स्थानों पर प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे और अग्निपथ योजना के विरोध में नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों ने कुछ समय तक नैनीताल मुख्य मार्ग को जाम कर दिया। जिसे हटाने गए पुलिस दल के साथ प्रदर्शनकारियों की काफी बहस हुई। इस दौरान पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा।