इस स्कीम में हर किसान को मिलते हैं एक एकड़ के इतने हज़ार रुपए, जानें क्या है स्कीम

0
390

किसानों को फायदा देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा समय समय पर नई योजनाएं चलाई जाती हैं। इसी तरह एक स्कीम के तहत किसानों को फायदा देने के लिए सरकार देश के किसानों को खाद-बीज के लिए हर साल खातों में पैसे भेजती है। हर साल सरकार किसानों के खाते में खाद-बीज के लिए लगभग 7840 रूपए भेजती है।

लेकिन इस बार महंगाई को देखते हुए सरकार ने इस राशि को बढ़ा दिया है। इस सार किसानों को खाद-बीज के लिए प्रति एकड़ 8640 रुपए दिए जाएंगे। जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि जिला सहकारी बैंकों के माध्यम से सरकार हर साल किसानों को खेती करने के लिए कर्ज देती है। किसानों को बैंक से यह कर्ज दो तरह से मिलता है।

एक नगद राशि के तौर पर मिलता है और दूसरा खाद-बीज के रूप में दिया जाता है। उसके बाद बैंक कर्ज की राशि को फसल बेचने के दौरान सोसायटियों में काट लिया जाता है। इस योजना में किसानों पर भी किसी तरह को कोई बोझ नहीं आता है। किसानों का कर्ज़ा भी उत्तर जाता है और खेती करने के लिए भी किसानों को पैसे भी मिल जाते हैं।

इस योजना में पिछले खरीफ सीजन में करीब 60 हजार से ज्यादा किसानों को 2 अरब का कर्ज दिया गया था। इस साल इस रकम को बढ़ाकर ढाई अरब रुपए कर दिया गया है। अगर आप भी सरकारी लोन का फायदा लेना चाहते हैं तो आप किसान क्रेडिट कार्ड योजना से आर्थिक सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

जो किसान खेती करने के लिए कर्ज लेना चाहते हैं, वो सरकार की इस योजना के माध्यम से बहुत आसानी से कर्ज प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आप अपने नजदीकी जिला सहकारी बैंक में संपर्क कर सकते हैं। इसके साथ ही आप बाकि राष्ट्रीयकृत निजी बैंकों के जरिए भी KCC लोन यानी खेती करने के लिए लोन ले सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि हर निजी बैंकों में कर्ज की राशि अलग-अलग होती है।