Breaking News
Home / Slider News / ‘आप’ का मिशन पंजाब : विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी

‘आप’ का मिशन पंजाब : विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी

पंजाब में तकरीबन साढ़े 3 महीने बाद प्रस्तावित विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। पार्टी विधायकों में मची ‘भगदड़’ के बीच जारी इस लिस्ट में 10 विधायकों को टिकट दिए गए हैं, लेकिन रायकोट विधानसभा सीट से पार्टी MLA जगतार सिंह हिस्सोवाल समेत 3 एमएलए के नाम इसमें शामिल नहीं है।

पार्टी की तरफ से जारी लिस्ट के अनुसार,जयकिशन रोड़ी गढ़शंकर, सर्वजीत कौर मानूके जगराओं, मनजीत बिलासपुर निहालसिंह वाला, कुलतार सिंह संधवां कोटकपूरा, बलजिंदर कौर तलवंडी साबो, प्रिंसिपल बुधराम बुढलाडा, हरपाल सिंह चीमा दिड़बा, अमन अरोड़ा सुनाम, गुरमीत सिंह मीत हेयर बरनाला और कुलवंत पंडौरी महलकलां विधानसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार होंगे।

हिस्सोवाल ने की थी चन्नी की तारीफ

आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों की पहली लिस्ट में लुधियाना जिले की रायकोट विधानसभा सीट से पार्टी MLA जगतार सिंह हिस्सोवाल का नाम शामिल नहीं है। हिस्सोवाल ने 11 नवंबर को ही पंजाब विधानसभा के विशेष सेशन के दौरान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की खुलकर सराहना की थी। उसी समय से चर्चा चल रही है कि जगतार सिंह हिस्सोवाल आम आदमी पार्टी छोड़ने जा रहे हैं। शुक्रवार को जारी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट में पार्टी ने हिस्सोवाल को टिकट न देकर एक तरह से इन चर्चाओं की पुष्टि कर दी है। जगतार सिंह हिस्सोवाल के अलावा ‘आप’ ने रोपड़ से पार्टी विधायक अमरजीत सिंह संदोआ और जैतो से पार्टी एमएलए बलदेव सिंह का टिकट भी पहली लिस्ट में अनाउंस नहीं किया है।

इस बीच लुधियाना जिले की जगराओं सीट की MLA सर्वजीत कौर मानूके और मोगा जिले में निहालसिंह वाला के विधायक मनजीत बिलासपुर के भी आम आदमी पार्टी छोड़ने की चर्चाएं चल रही हैं, मगर पार्टी ने शुक्रवार को इन दोनों को अगले विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाकर एक तरह से इन अटकलों पर विराम लगाने की कोशिश की है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से पंजाब में यह चर्चा आम है कि आम आदमी पार्टी के बहुत से विधायक या तो अगला चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं हैं या फिर अपना निर्वाचन हलका बदलना चाहते हैं। अब पार्टी ने सभी सीटिंग एमएलए को उन्हीं के विधानसभा हलकों से टिकट देकर इन चर्चाओं पर भी विराम लगाने का प्रयास किया है।

2017 में 20 विधायक जीते, 7 अब पार्टी से बाहर

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में पंजाब में आम आदमी पार्टी के कुल 20 विधायक जीते थे। इनमें से 7 विधायक या तो खुद आम आदमी पार्टी को छोड़ चुके हैं या फिर खुद पार्टी ही उन्हें बाहर का रास्ता दिखा चुकी है। इनमें सुखपाल सिंह खैहरा, नाजर सिंह मानशाहियां, कंवर संधू, एचएस फुल्का, पीरमल सिंह खालसा, रूपिंदर कौर रूबी और जगदेव सिंह कमालू शामिल हैं। इनमें से एचएस फुल्का खुद पार्टी छोड़ चुके हैं, जबकि कंवर संधू पार्टी से मुअत्तल चल रहे हैं। इसके अलावा सुखपाल सिंह खैहरा, रूपिंदर कौर रूबी, पीरमल सिंह खालसा, जगदेव सिंह कमालू कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं।

CM फेस पर सस्पेंस बरकरार

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ऐलान कर चुके हैं कि पंजाब में 2022 का विधानसभा चुनाव पार्टी मुख्यमंत्री के चेहरे के साथ लड़ेगी। केजरीवाल यह भी कह चुके हैं कि उनकी पार्टी का सीएम फेस ऐसा पंजाबी होगा, जिस पर पूरे पंजाब को मान होगा। हालांकि केजरीवाल ने अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया कि सीएम फेस होगा कौन?

उधर पंजाब में आम आदमी पार्टी के नेता और संगरूर के लोकसभा सांसद भगवंत सिंह मान मुख्यमंत्री चेहरे के प्रबल दावेदार हैं। खुद मान भी चाहते हैं कि पार्टी उन्हें सीएम फेस अनाउंस करे, मगर केजरीवाल फिलहाल इसके लिए तैयार नहीं हैं। इस बात पर भी सस्पेंस बना हुआ है कि भगवंत मान विधानसभा चुनाव लड़ेंगे या नहीं? आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को कैंडिडेट्स की जो पहली लिस्ट जारी की, उसमें भगवंत मान का नाम नहीं है। ऐसे में जाहिर है कि अभी इसे लेकर अटकलों का दौर चलता रहेगा।

Check Also

विधानसभा चुनाव : पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपने ही बुने जाल फंस रही सपा, जानें पूरा मामला

– सपा-रालोद की 29 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में 9 मुस्लिमों के नाम से जाटों ...