आधार कार्ड बनवाने या अपडेट कराने नहीं जाना होगा आधार सेंटर, घर पर मिलेगी सेवा

0
4886

नई दिल्‍ली (ईएमएस)। जल्‍द ही आधार कार्डधारकों को आधार से संबंधित कई कामों के लिए आधार सेंटर जाने की जरूरत नहीं होगी। केंद्र सरकार ने आधार से जुड़ी सभी सेवाओं को डाकिए के जरिए लोगों के घरों तक पहुंचाने का निर्णय लिया है। अभी नया आधार कार्ड बनवाने और आधार कार्ड में किसी भी तरह के अपडेट कराने के लिए लोगों को आधार सेंटर जाना होता है। आधार संबंधी सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए यूआईडीआई अभी डाकियों को ट्रेनिंग दे रहा है। पहले चरण में इंडियन पोस्‍ट पेमेंट बैंक के लिए काम कर रहे 48,000 इसतरह के डाकियों को ट्रेनिंग देकर आधार से जुड़ी काम करने की अनुमति दी जाएगी, जो देश के दूर-दराज के हिस्‍सों में काम करते हैं। दूसरे चरण में 1,50,000 डाक अधिकारियों को कवर किया जाएगा।

इंडियन पोस्‍ट पेमेंट बैंक के साथ जुड़े डाकिये आधार से संबंधित लगभग सभी सुविधाएं मुहैया कराएंगे। इसमें नए आधार के लिए नामांकन, बच्‍चों का आधार बनाना, आधार नंबर को मोबाइल नंबर से लिंक करना अन्‍य विवरणों को अपडेट करना शामिल है। हालांकि, सरकार ने अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं किया है कि घर पर ही आधार सेवा लेने के लिए किसी व्‍यक्ति को ऑनलाइन आवेदन करना होगा या फिर फोन के जरिए डाकिए से संपर्क करना होगा. डाक विभाग के कर्मचारियों को आधार से संबंधित काम करने के लिए लैपटॉप और बायोमैट्रिक स्‍कैनर जैसे बेसिक उपकरण उपलब्‍ध कराएं जाएंगे, ताकि वहां आधार डेटाबेस में लोगों की एंट्री कर सकें। डाक विभाग के कर्मचारियों के अलावा यूआईडीआई कॉमन सर्विस सेंटर के साथ काम कर रहे 13,000 बैंकिंग कॉरस्‍पोंडेंट को भी अपने साथ जोड़ने का है।

गौरतलब है कि देश के सभी 755 जिलों में आधार सेंटर काम कर रहा हैं। यूआईडीआई आधार में विवरण अपडेट करने की ऑनलाइन सुविधा प्रदान करता है। आधार कार्ड बनवाने या मौजूदा आधार में डिटेल्स अपडेट करने वाले के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट भी लिया जा सकता है। आधार सेवा केन्द्रों पर आधार बनवाने के लिए इनरॉलमेंट से लेकर आधार में मौजूद डिटेल अपडेट कराने की सुविधा मिलती है। इन डिटेल्स में नाम में करेक्शन, जन्मतिथि में करेक्शन, मोबाइल/ईमेल आईडी बदलवाना, पता अपडेट कराना, फोटो बदलना और बायोमेट्रिक डिटेल्स अपडेट कराया जाना शामिल है।