Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / आज का भारत मैत्री निभाना जानता है तो दुश्मन की मांद में घुसकर जवाब देना भी : योगी आदित्यनाथ

आज का भारत मैत्री निभाना जानता है तो दुश्मन की मांद में घुसकर जवाब देना भी : योगी आदित्यनाथ

– कैंट विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के टिफिन बैठक में शामिल हुए मुख्यमंत्री

बोले-जी-20 की सर्वाधिक बैठकें काशी में हो रही हैं, दुनिया इस शहर के बारे में जानना चाहती है

वाराणसी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा भारत के उत्थान और वैश्विक मंच पर मानवता के कल्याण के लिए काम कर रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से भाजपा कार्यकर्ताओं में विचारधारा और संगठन के प्रति आत्मीय भाव पैदा करने के लिए आज प्रदेश की सभी विधानसभाओं में टिफिन बैठकों का आयोजन हो रहा है।

दो दिवसीय वाराणसी दौरे पर आए मुख्यमंत्री रविवार अपरान्ह कैंट विधानसभा क्षेत्र के विरदोपुर स्थित कैलाश मठ में भाजपा की ओर से आयोजित टिफिन बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व की सराहना कर कहा कि काशी में टिफिन बैठक में शामिल होने पर मुझे हर्ष की अनुभूति हो रही है। उन्होंने कहा कि हम सब ने 9 साल में भारत की बदलती तस्वीर को देखा है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले का भारत और उसके बाद का भारत हमारे सामने है। पहले देश के अंदर बड़े-बड़े आंदोलन चल रहे थे। सरकार के प्रति जनता में गुस्सा, आक्रोश और अविश्वास देखने को मिल रहा था। प्रतिदिन एक नया भ्रष्टाचार सामने आता था। आंतरिक और बाह्य सुरक्षा खतरे में थी, लेकिन पिछले 9 साल में हमने बदलते हुए भारत को देखा है। हाल ही में पीएम मोदी के 6 दिवसीय यात्रा को हम सबने देखा है। ये यात्रा भारत की बढ़ती ताकत का अहसास कराती है। अन्य देशों में भारत की कैसी प्रतिष्ठा बढ़ी है आप सबने देखा है।

टिफिन बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का भारत अगर मैत्री निभाना जानता है तो दुश्मन की मांद में घुसकर जवाब देना भी उसे अच्छी तरह आता है। देश की आंतरिक और बाह्य सीमाएं आज पूरी तरह से सुरक्षित हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भारत दुनिया की पांचवीं अर्थव्यवस्था है। अगले दो-तीन साल में हम दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनने जा रहे हैं। कश्मीर कभी अशांत और आतंकवाद की चपेट में था। आज वह शांति की नई राह पर बढ़ चुका है। पूर्वोत्तर के राज्य में कभी उग्रवाद चरम पर था, आज उन राज्यों में बीजेपी की सरकार होने से वे विकास और नये विश्वास के साथ आगे बढ़ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में विरासत के सम्मान के लिए तमाम कदम उठाए गये हैं। काशी विश्वनाथ धाम, अयोध्या का श्रीराम मंदिर, केदारनाथ मंदिर और महाकाल का पुनरुद्धार पीएम मोदी के नेतृत्व का परिणाम है।

-काशी दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दुनिया में वैश्विक लीडर के रूप में मान्यता मिली है। देश की संसद में पीएम मोदी काशी का प्रतिनिधित्व कर रहे हें। यही कारण है कि काशी दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र है। जी 20 की सर्वाधिक बैठकें यहां हो रही हैं। काशी जगमगा रही है। काशी वैश्विक स्तर पर नये आकर्षण का केंद्र बना है। काशी इसलिए काशी है क्योंकि काशी अविनाशी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काशी को पुन: प्रतिष्ठा और पहचान दी है। यही नहीं पीएम के मार्गदर्शन में यूपी आज बीमारू राज्य से ऊपर उठ चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश विकास, सुरक्षा और सुशासन का एक मानक बना है। यूपी आज जिस मार्ग का अनुसरण कर रहा है, वो दिन दूर नहीं जब ये भारत के ग्रोथ इंजन के रूप में स्थापित हो जाएगा। इस दिशा में हमें मिलकर प्रयास करना है।

बैठक में प्रदेश सरकार के मंत्री डॉ दया शंकर मिश्र ‘दयालू’, कैलाश मठ के महामंडलेश्वर आशुतोषानंद महाराज, स्वामी अनंतानंद महाराज, महापौर अशोक तिवारी, भाजपा काशी क्षेत्र के अध्यक्ष दिलीप सिंह पटेल,जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा,महानगर अध्यक्ष विद्या सागर राय, एमएलसी अशोक धवन, कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव, पिंडरा विधायक डॉ अवधेश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्य आदि मौजूद रहे।

-मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं के साथ टिफिन भी खाया

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ टिफिन भी खाया। मुख्यमंत्री ने कैलाश मठ में 102 वर्षीय महामंडलेश्वर स्वामी रामचंद्र से मुलाकात कर उनका कुशलक्षेम पूछा। इसके बाद मठ में स्थित महादेव का दर्शन-पूजन भी किया।

Check Also

आंखों में धुधला दिखाई दे तो तुरंत कराए जांच, इसे नजरअंदाज करने की ना करें भूल

नई दिल्ली (ईएमएस) । आंखों के एक्सपर्ट का कहना है कि अगर किसी को देखने ...