आजमगढ़ में 1838930 मतदाता तय करेंगे 13 प्रत्याशियों का भाग्य, भाजपा, सपा, बसपा सहित 13 प्रत्याशी मैदान में

0
5666

सभी मतदान केन्द्रों पर पैरामिलिट्री फोर्स की रहेगी तैनाती

पोलिंग पार्टियां सभी मतदान केन्द्रों पर पहुंचीं

भाजपा, सपा, बसपा सहित 13 प्रत्याशी हैं मैदान में

आजमगढ़.  लोकसभा उपचुनाव में आजमगढ़ संसदीय सीट के लिए गुरुवार को मतदान होगा। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान केन्द्रों पर पोलिंग पार्टियां रवाना हुईं और शाम तक सभी पोलिंग पार्टियां अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंच गईं। सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गये है। सभी मतदान केन्द्रों की सुरक्षा पैरामिलिट्री फोर्स के हवाले रहेगी। इसके अलावा पुलिस, पीएसी और होमगार्ड के जवानों को भी तैनाती की गई है। जिले में 1838930 मतदाता 13 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। 1600 बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा 236 माइक्रोआब्जर्वर तैनात किए गए हैं।

बता दें कि विधानसभा चुनाव वर्ष 2022 के बाद अखिलेश यादव द्वारा आजमगढ़ संसदीय सीट से इस्तीफा देने के कारण लोकसभा का चुनाव हो रहा है। उपचुनाव में कुल 13 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिसमें भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव निरहुआ, सपा प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव और बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली के बीच लड़ाई मानी जा रही है।

जिले में मतदान के लिए 1149 मतदान केंद्र तथा 2176 बूथ बनाए गए हैं। मतदान संपन्न कराने के लिए 8704 कार्मिकों की ड्यूटी लगाई गई है। मतदाताओं की बात करें तो उपचुनाव में 18 लाख 38 हजार 930 मतदाता मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसमें 9 लाख 70 हजार 935 पुरुष तथा 8 लाख 67 हजार 968 महिला मतदाता हैं, जबकि थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 27 है।

विधानसभावार मतदाताओं की संख्या पर गौर करें तो गोपालपुर में 3 लाख 50 हजार 755 मतदाता, सगड़ी में 3 लाख 35 हजार 990, मुबारकपुर में 3 लाख 53 हजार 333, आजमगढ़ में 3 लाख 95 हजार 202 तथा मेंहनगर में 4 लाख 3650 मतदाता मताधिकार का प्रयोग करेंगे। सबसे अधिक मतदाता मेंहनगर व सबसे कम मतदाता सगड़ी विधानसभा में हैं।

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य के मुताबिक सभी केंद्रों पर पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात रहेगी। चुनाव में 7000 सिविल पुलिस, 7000 पैरा मिलिट्री के जवान, 6 हजार होमगार्ड, 2200 अन्य फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है। चुनाव के दृष्टिगत 5500 लोगों को शांतिभंग में पाबंद किया गया है। भारी संख्या में गुंडा एक्ट व गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई हुई है। करीब 500 संदिग्ध अराजकतत्वों को रेड कार्ड जारी किया गया है। प्रत्येक थाने में आधा दर्जन कलस्टर मोबाइल का गठन किया गया है जो हमेशा क्षेत्र में भ्रमणशील रहेगी। 342 स्थानों पर बैरियर लगाकर वाहनों की सघन चेकिंग के साथ ही सभी थानाध्यक्षों को क्षेत्र भ्रमण कर शांतिपूर्ण ढंग से मतदान संपन्न कराने के निर्देश दिए गए हैं।