Breaking News
Home / अयोध्या एक्सक्लूसिव / अयोध्या धाम को जल्द मिलेगी तीन नये पथों की सौगात, जानिए क्या है तैयारी

अयोध्या धाम को जल्द मिलेगी तीन नये पथों की सौगात, जानिए क्या है तैयारी

Glimpses of Pran Pratishtha ceremony of Shree Ram Janmaboomi Temple in Ayodhya, Uttar Pradesh on January 22, 2024. PM presents on the occasion.

– लक्ष्मण पथ,अवध आगमन पथ और क्षीरसागर पथ के नाम से बनेंगे तीन नए पथ

– तीनों पथों की कुल लम्बाई होगी 7.40 किमी

– पथ निर्माण में आएगी 29937.50 लाख रुपए की लागत

अयोध्या । श्रीराम लला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद से अयोध्या में दर्शन पूजन के लिए प्रतिदिन लाखों की तादात में श्रद्धालु आ रहे हैं। ऐसे में अयोध्या की सड़कों पर ट्रैफिक का दबाव भी बढ़ा है। कई बार जाम की स्थिति भी देखने को मिल रही है। इस समस्या से श्रद्धालुओं को निजात दिलाने व अयोध्या आने वाले हर रामभक्त को आसानी से रामलला का दर्शन हो सके, इसके लिए योगी सरकार ने वैसे तो पहले से ही चार नए पथों का निर्माण कराया है, फिर भी श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए अब तीन और नए पथों के निर्माण का निर्णय लिया गया है। बनाए जाने वाले तीनो पथों की लम्बाई लगभग 7.40 किलोमीटर रहेगी। इनके निर्माण पर 29937.50 लाख रुपए योगी सरकार खर्च करेगी।

नए पथों का शीघ्र ही निर्माण होगा प्रारंम्भ
अयोध्या में आने वाले श्रद्धालुओं को जाम के झाम से न जूझना पड़े इसके लिए तीन नए पथों का निर्माण किया जाएगा। पहला पथ होगा लक्ष्मण पथ, जिसकी लम्बी होगी 6.70 किमी। इसके निर्माण पर 26222.65 लाख रुपए की लागत आएगी। यह गुप्तारघाट से राजघाट तक फोर लेन बनाया जाएगा। दूसरे बनने वाले पथ को अवध आगमन पथ का नाम दिया गया है। यह क्षीरसागर पथ से रामपथ तक 0.30 किमी लम्बा बनाया जाएगा। इस पथ के निर्माण पर 1689.32 लाख रुपए की लागत आएगी। अयोध्या मे बनने वाले तीसरे पथ को क्षीरसागर पथ का नाम दिया गया है। इसकी लम्बाई 0.400 किमी रहेगी। इसके निर्माण पर 2025.53 लाख रुपए की लागत आएगी। नए बनने वाले इन तीनों पथों के निर्माण का दायित्व लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खण्ड को सौंपा गया है।

पहले से संचालित हैं चार पथ
नव्य-भव्य और दिव्य मंदिर में श्रीराम लला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले ही योगी सरकार ने आने वाली भीड़ का अनुमान लगाते हुए सहादतगंज से नयाघाट तक लगभग 13 किमी लम्बा फोर लेन रामपथ, बिड़ला धर्मशाला से रामजन्म भूमि तक .566 किमी लम्बा जन्मभूमि पथ, श्रृंगार हाट से हनुमानगढ़ी तक .742 किमी भक्ति पथ व लता मंगेशकर चौक से लखनऊ-गोरखपुर हाईवे तक फोर लेन धर्म पथ का निर्माण कराया था। फिर भी जिस प्रकार श्रद्धालुओं की भीड़ अयोध्या पहुंच रही है उसे देखते हुए तीन नए पथों का अयोध्या मे निर्माण कराए जाने का निर्णय लिया गया है।

Check Also

लोकसभा निर्वाचनः प्रथम चरण में मप्र के छह संसदीय क्षेत्र में शुक्रवार को मतदान, जानें क्या है तैयारी

– मतदान दल आज मतदान सामग्री लेकर होंगे रवाना भोपाल । लोकसभा निर्वाचन-2024 के कार्यक्रम ...