अग्निपथ योजना के खिलाफ क्यों प्रदर्शन कर रहे हैं युवा ? क्यों हो रहा बिहार में बवाल

0
1181

Agnipath Scheme : सेना में केवल 4 साल के लिए भर्ती वाली सरकार की अग्‍न‍िपथ योजना (Agnipath Scheme) बिहार (Bihar) के युवाओं को पसंद नहीं आ रही है। यही वजह है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) द्वारा अग्‍न‍िवीरों के लिए अग्‍न‍िपथ योजना (Agnipath Scheme) की घोषणा किए जाने के अगले ही दिन बिहार (Bihar) के अलग-अलग शहरों में हंगामा शुरू हो गया है। बिहार (Bihar) के युवकों ने इस योजना का भारी विरोध किया है।

बिहार में अलग-अलग शहरों में फूटा युवाओं का गुस्सा

बिहार (Bihar) के बक्‍सर (Buxar) में सेना भर्ती की तैयारी करने वाले युवाओं ने ट्रेनों का परिचालन बाधित कर दिया है तो वहीं मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में गुस्साए युवा सड़क जाम कर आगजनी पर उतारू हो गए हैं। मुजफ्फरपुर में सेना भर्ती की तैयारी करने वाले युवा आज बुधवार की सुबह होते ही सेना भर्ती बोर्ड के कार्यालय पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। हालांकि, मुजफ्फरपुर में हंगामा कर रहे युवाओं का कहना है कि वे पहले से जारी सेना भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने के लिए हंगामा कर रहे हैं।

मुजफ्फरपुर में सड़क जाम और आगजनी

बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर में सेना भर्ती बोर्ड के पास हंगामा कर रहे युवाओं को प्रशासन ने भगा दिया। इसके बाद गुस्साए अभ्यर्थी चक्कर चौक पर पहुंचे और वहां सड़क पर टायर जलाकर यातायात बाधित कर दिया। यहां से निकलने के बाद सभी भगवानपुर चौक पहुंचे और वहां हंगामा शुरू कर दिया।

शारीरिक दक्षता परीक्षा पास करने पर भी नहीं मिल रही नौकरी

हंगामा कर रहे युवाओं का कहना है कि सेना में भर्ती के लिए दो साल पहले ही शारीरिक दक्षता परीक्षा पास करने के बाद भी उन्‍हें नौकरी नहीं मिली है। साथ ही उनका कहना है कि दो साल से सेना भर्ती कार्यालय का चक्‍कर लगाकर थक गए हैं, लेकिन कोई सही जवाब नहीं दिया जाता। युवाओं ने कहा कि इसके लिए कई बार डीएम को भी ज्ञापन दिया है। युवाओं का कहना था कि नौकरी के लिए उनकी उम्र गुजर रही है और सेना में भर्तियां रोक दी गई हैं।

बक्सर में ट्रैन पर पथराव

बता दें कि सरकार की सेना में भर्ती वाली अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) के विरोध में दानापुर रेल मंडल के अंतर्गत पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन – पटना जंक्‍शन रेलखंड के बक्‍सर रेलवे स्टेशन पर छात्रों ने खूब बवाल काटा है। यहां सौ से अधिक की संख्या में रहे छात्रों ने रेल पटरी पर बैठ कर ट्रैक को करीब 45 मिनट तक जाम किए रखा। इस बीच ट्रैक जाम रहने के कारण बक्सर में जनशताब्दी एक्सप्रेस करीब 25 मिनट तक खड़ी रही। मौके पर मौजूद आरपीएफ प्रभारी दीपक कुमार और जीआरपी थनाध्यक्ष रामाशीष प्रसाद के काफी समझाने बुझाने के बाद ट्रैक छोड़कर छात्र हट गए और तब जनशताब्दी एक्सप्रेस यहां से खुली है। मीडिया में खबरें है कि गुस्साएं छात्रों ने बक्सर से गुजर रही पाटलिपुत्र एक्सप्रेस पर पथराव किया है। हालांकि जीआरपी थानाध्यक्ष ने इस बात का खंडन करते हुए इसे अफवाह बताया है।