अग्निपथ योजनाः उम्र 23 साल करने पर मुख्यमंत्री ने जताया आभार, जानिए क्या बोले-योगी

0
315

लखनऊ । केन्द्र सरकार ने अग्निपथ योजना के अंतर्गत नौकरी की अवधि बढ़ा दी है। इस योजना के तहत जल्द ही सेना में भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार जताया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में ‘अग्निपथ योजना-2022’ के लिए अधिकतम प्रवेश आयु को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष करने का निर्णय अभिनंदनीय है। असंख्य युवाओं में आशा व उत्साह का संचार करती इस सौगात के लिए प्रधानमंत्री मोदी का हार्दिक आभार एवं अभिनंदन है।

इससे पहले लखनऊ से सांसद व रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार की घोषित ‘अग्निपथ योजना’ भारत के युवाओं को देश की रक्षा व्यवस्था से जुड़ने और देश सेवा करने का सुनहरा अवसर है। पिछले दो वर्षों से सेना में भर्ती की प्रक्रिया नहीं होने के कारण बहुत से युवाओं को सेना में भर्ती होने का अवसर नहीं मिल सका था।

इसलिए युवाओं के भविष्य को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री मोदी के निर्देश पर सरकार ने अग्निवीरों को भर्ती की आयु सीमा को इस बार 21 वर्ष से बढ़ा कर 23 वर्ष कर दी है। यह एक बार के लिए छूट दी गयी है। इससे बहुत सारे युवाओं को अग्निवीर बनने की पात्रता प्राप्त हो जाएगी।

राजनाथ सिंह ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री को युवाओं के भविष्य की चिंता करने और उनके प्रति संवेदनशीलता के लिए हृदय से धन्यवाद करता हूँ। मैं युवाओं से अपील करता हूं कि सेना में भर्ती की प्रक्रिया कुछ ही दिनों में प्रारम्भ होने जा रही है। वे इसके लिए अपनी तैयारी शुरू करें।

उल्लेखनीय है कि अग्निपथ योजना के खिलाफ उत्तर प्रदेश के युवा भी प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को बलिया, वाराणसी समेत पूर्वांचल के कई जिलों में युवाओं ने प्रदर्शन किया है। माना जा रहा है कि केन्द्र सरकार के इस कदम से युवाओं में व्याप्त आक्रोश समाप्त होगा।