Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / Weather Update : उप्र में चार दिनों तक लू की चेतावनी, मेघ गर्जना के साथ हल्की बारिश की संभावना

Weather Update : उप्र में चार दिनों तक लू की चेतावनी, मेघ गर्जना के साथ हल्की बारिश की संभावना

– कानपुर में हुई बूंदाबांदी से बढ़ी उमस भरी गर्मी, लू से परेशान दिखे शहरवासी

कानपुर (हि.स.)। मानसून का इंतजार कर रहे उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए आगामी चार दिन परेशानियों से भरे रहेंगे, क्योंकि मौसम विभाग ने इन दिनों में लू की चेतावनी दी है। इसके साथ ही मेघ गर्जना के साथ बिजली भी चमकेगी और हल्की बारिश की संभावना है। हल्की बारिश से हो रही तेज धूप उमस भरी गर्मी में परिवर्तित रहेगी और लू भी लोगों को हलाकान करेगी।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने बुधवार को बताया कि उत्तर पूर्व अरब सागर के ऊपर बना अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान बिपरजोय धीमी गति से उत्तर की ओर बढ़ रहा है जो मानसून के लिए मददगार बन रहा है। हालांकि अभी मानसून पूर्वी बिहार तक ही पहुंच पाया है और उत्तर प्रदेश के मैदानी इलाकों में 22 जून के आसपास पहुंचेगा। इस बीच उत्तर प्रदेश में आगामी चार दिनों तक लू विकराल रुप ले सकती है। इसके साथ ही बीच बीच में स्थनीय कारणों से हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना है। कानपुर में बुधवार को बूंदाबांदी भी हुई और पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी यही स्थिति रही। पश्चिमी उत्तर प्रदेश अभी शुष्क रहेगा और लू तीव्र गति से चलेगी।

राजधानी लखनऊ, बाराबंकी, रायबरेली, अमेठी व सुल्तानपुर में दिन और रात में आगामी चार दिनों तक लू चलेगी। पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर गरज के साथ वर्षा आने की संभावना बताई गई है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आज कुछ स्थानों पर उष्ण लहर चलने की भी संभावना है। पूर्वी यूपी में 17-18 जून को कुछ स्थानों पर मेघ गर्जन के साथ बिजली चमकने की भी संभावना है।

बताया कि कानपुर में अधिकतम तापमान 42.7 और न्यूनतम तापमान 32.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह की सापेक्षिक आर्द्रता 47 और दोपहर की सापेक्षिक आर्द्रता 29 प्रतिशत रही। हवाओं की दिशाएं उत्तर पश्चिम रहीं जिनकी औसत गति 11.2 किमी प्रति घंटा रही।

Check Also

कानपुर : फेरों से पहले दूल्हे के गहने लेकर दुल्हन हुई रफूचक्कर, जब बराती ने रास्ता रोका तो

 बराती ने रास्ता रोका तो भाइयों ने उठाकर पटका कानपुर। ग्यारह हसबैंडों का बैंड बजाने ...