Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / 48070 कुंटल चावल, 164 कुंटल मेंथा बरेली से निर्यात, बढ़ी किसानों की आमदनी

48070 कुंटल चावल, 164 कुंटल मेंथा बरेली से निर्यात, बढ़ी किसानों की आमदनी

 *मुख्यमंत्री के निर्देश पर कमिश्नर ने निर्यातकों को बासमती चावल का निर्यात बढ़ाने को किया प्रोत्साहित*
*हवाई, जलमार्ग से 10 रुपये, सड़क मार्ग से 5 रुपए प्रति कुंटल भाड़ा, निर्यातक फर्म को 10 लाख की सब्सिडी*
 *एफपीओ, एफएफसी और सोसाइटी के खरीद पर मंडी शुल्क की मिलेगी छूट*
 बरेली।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एफपीओ (कृषक उत्पादक संगठन) व सोसाइटी के साथ मिलकर कृषि निर्यात विभाग किसानों की आमदनी दोगुनी करने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। बरेली मंडल में 48070 कुंटल चावल और 164 कुंटल मेंथा का निर्यात किया गया। मंगलवार को आयुक्त सभागार में कृषि निर्यात को बढ़ावा देने और समस्याओं के समाधान के संबंध में बैठक आयोजित की गई। इसमें कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने निर्यातकों को बासमती चावल का निर्यात बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की कृषि 2019 की नीति के तहत अब निर्यातकों को काफी सुविधाएं दी जा रही हैं। हवाई और जलमार्ग से निर्यात करने वाले का भाड़ा 10 रुपए किग्रा, सड़क मार्ग से निर्यात करने पर भाड़ा 5 रुपए प्रति किलोग्राम दिया जाएगा। इसके अलावा निर्यातक फर्म को 10 लाख तक की सब्सिडी भी मुहैया कराई जाएगी।
 
*50 हेक्टेयर के क्लस्टर को मिलेगी 25 लाख की प्रोत्साहन राशि*
सहायक कृषि विपणन अधिकारी बरेली मंडल अवधेश कुमार ने बताया कि बरेली, शाहजहांपुर और पीलीभीत में 50-50 हेक्टेयर के चार क्लस्टर बनाए जाने हैं। इसमें बरेली में दो क्लस्टर बनकर तैयार हो चुके हैं। एक क्लस्टर में कुल उत्पादन का 40 प्रतिशत निर्यात किया जाना है। इसके लिए 25 लाख की प्रोत्साहन राशि 5 वर्षों में दी जाएगी।बरेली मंडल में बासमती चावल का निर्यात किया जा रहा है। इसको लेकर बरेली में 39 उत्पादक संगठन, बदायूं में 23, शाहजहांपुर में 74 और पीलीभीत में 24 बनाए गए हैं। इनके जरिए कृषि निर्यात प्रोत्साहन को बढ़ावा दिया जा रहा है।
*बरेली मंडल से सऊदी अरब और नेपाल को निर्यात किया चावल*
बरेली मंडल से 2021 में आर आई राइस एक्सपोर्ट धौरा टांडा ने 5460 कुंटल, रहीम इंडस्ट्रीज धौरा टांडा ने 26950 कुंटल चावल का नेपाल को निर्यात किया था। पीलीभीत के गर्ग राइस मिल पूरनपुर ने 15660 कुंटल चावल का निर्यात सऊदी अरब को किया है। बदायूं में उझानी की मैसर्स रेडियल नेचुरल एरोमेटिक प्राइवेट लिमिटेड ने 164 कुंटल मेंथा का निर्यात किया।
 *कमिश्नर ने निर्यातकों और एफपीओ के मध्य एमओयू कराने के दिए निर्देश*
 कमिश्नर सौम्या अग्रवाल ने सहायक विपणन अधिकारी अवधेश कुमार को निर्देश दिया कि वह एफपीओ और निर्यातकों के मध्य एमओयू कराएं।जिससे बासमती चावल का निर्यात हो सके तथा किसानों और निर्यातकों को उचित मूल्य भी मिल सके।
निर्यातकों को निर्यात करने हेतु बढ़ावा दिया जाए और उनकी समस्याओं का भी निस्तारण किया जाए। उन्होंने संयुक्त कृषि निदेशक को निर्देश दिए कि ऐसे कृषक जो बासमती चावल के कलेस्टर अनुसार पैदावारी करते है उनको निर्यात करने एवं उपज हेतु प्रशिक्षित किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि समय-समय पर निरीक्षण भी करें, जिससे बासमती चावल की गुणवत्तापूर्ण उपज हो सके। बैठक में एपीडा के डॉक्टर रितेश शर्मा, ऑल इंडिया राइस एक्सपोर्ट एसोसिएशन के निदेशक विनोद कौल, उप निदेशक प्रशासन एवं विपणन मंडी परिषद अविनाश चन्द्र, ज्वाइंट कमिश्नर इंडस्ट्रीज, उप निदेशक मत्स्य, कृषि उत्पादक संगठन के प्रतिनिधि रहे।

Check Also

इस चुनाव में भी बसपा नहीं जीत सकी उत्तर प्रदेश में एक भी सीट, जानें- कैसे बिगाड़ा खेल?

लखनऊ (हि.स.)। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव की तरह इस चुनाव में भी बसपा उत्तर ...